ट्रेन की पैंट्रीकार में मिला 1 करोड़ 50 लाख रुपया, आखिर 15 घंटे तक क्यों नहीं खोला बैग – जानें वजह

money found in swatantrata senani train

money found in swatantrata senani train

डेस्क : स्वतंत्रता सेनानी ट्रेन की पैंट्री कार में दो पैसों से भरे बैग पाए गए हैं। इन दोनों बैग से करोड़ों रुपया सामने निकल कर आया है। बता दें कि नोटों से भरा बैग ट्रेन की पैंट्री कार में मिला है। लेकिन, इन लोगों पर पुलिस ने कोई उक्त कार्यवाही नहीं की और इस बात को दबा के रखा गया है। अब सीआरपीएफ और रेलवे पुलिस फोर्स पर सवालों की झड़ी लग गई है कि आखिर किस वजह से इस बात को छुपाया जा रहा था।

नोटों से भरा बैग ट्रेन में 15 घंटे तक छिपाया गया और किसी को इसका पता नहीं लगा। ऐसे में जब बैग को जप्त कर लिया गया तो वहां पर आरपीएफ, जीआरपी के साथ अन्य सैनिक बल मौजूद थे। जिन पर सवाल उठ रहा है कि आखिर किस तरह से रेलवे की सुरक्षा व्यवस्था ढीली पड़ रही है ? ट्रेन में नोटों से भरा बैग जब मिला तब वह लावारिस हालत में था। इसके चलते बम डिस्पोजल स्क्वाड को आना पड़ा और स्क्वाड की कार्यवाही के बाद ही इस बैग को खोला गया।

जैसे ही इस बैग को खोला तो सिपाहियों की आंखें चौक गई। बैग में 2000 के 70 लाख 500-500 के 55 लाख और 200 के साथ 100 के नोट मिले हैं। सभी अधिकारियों ने बैग को खोलकर तस्वीरें खींची और बैग को वापस बंद करके सील कर दिया गया। बता दें कि इसमें मौजूदा करेंसी सारी भारत की थी और नई करेंसी थी।

गुप्त सूचना यह भी है की जब यह पैसों से भरा बैग मिला तो बड़े अधिकारियों को इसकी खबर नहीं लगने दी। यह ट्रेन नई दिल्ली से जय नगर की ओर जा रही थी। जब बैग खोज निकाल लिए गए तब RPF के असिस्टेंट सिक्योरिटी कमिश्नर ने एक सलाह दी और कहा की डायरेक्टर से रात 11 बजे बात की जाए, सलाह में यह बात सामने निकलकर आई की एक ऐसा बैग प्राप्त हुआ जिसमें कई नोट मिले हैं और मौजूदा नोटों की गिनती चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *