बिहार में 10 साल पुरानी 6 लेन शानदार हाइवे परियोजना को मिली हरी झंडी – उत्तर प्रदेश तक सरपट बनने वाला है सफर

डेस्क : बिहारवासियों को जल्द पटना से वाराणसी जाने के लिए एक अलग और बेहतर रोड मिल जाएगा। बता दें कि इस रोड के निर्माण में सरकार मोटा पैसा खर्च कर रही है। इससे पहले पटना गया डोभी फोरलेन रोड तैयार होगा। निर्माण कार्य पूरा होते ही औरंगाबाद के लोग आसानी से वाराणसी तक आना-जाना कर सकेंगे। बिहार की बहुप्रतीक्षित सड़क योजनाओं में से यह योजना बेहद खास है, इस वक्त NH-2 लेन पर भी निर्माण कार्य शुरू हो गया है।

इस परियोजना की शुरुआत 10 साल पहले की गई थी, लेकिन जमीन अधिग्रहण करने के मामले में कार्य को रोक दिया गया था। सरकार के अधिकारियों का कहना है कि यदि सारी चीजें ठीक रहती हैं तो 15 अगस्त के आसपास चार लेन सड़क निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा और जल्द ही उस पर गाड़ियां दौड़ती नजर आएंगे बता दें कि यह निर्माण कार्य 192 किलोमीटर लंबा होगा। उम्मीद लगाई जा रही है कि 2023 तक इसको पूरा कर दिया जाएगा। ऐसे में औरंगाबाद के लोग वाराणसी तक आसानी से आ जा सकेंगे। कई जगह से ठेकेदार आगे आए हैं, जिन्होंने सड़क परियोजना में कार्य कराने के लिए हाथ बढ़ाया है।

बीते वक्त दिल्ली में एनएचएआई के अधिकारियों द्वारा मीटिंग की गई। मीटिंग में इस हाइवे के वापस से निर्माण कार्य शुरू करने के लिए जोर दिया गया। बता दें कि मीटिंग में पूरी जिम्मेदारी पुराने ठेकेदारों के कंधों पर सौंपी गई है। ऐसे में 196 किलोमीटर लंबाई वाली या सड़क 135 किलोमीटर तक बिहार को कवर करेगी। वहीं 57 किलोमीटर तक यह सड़क उत्तर प्रदेश को कवर करेगी। इस पूरी परियोजना का खर्च 2848 करोड़ों रुपए का है, आने वाले समय में खर्चा बढ़ सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.