बिहार में शराब बंद होने से 100% महिलाएं है खुश! अब रात में सुरक्षित घूम रहीं औरतें, जानें – रिपोर्ट..

डेस्क : बिहार में शराबंबदी से महिलाएं काफी खुश हैं। मद्यनिषेध विभाग के एक सर्वे के अनुसार राज्य की 100 फीसदी महिलाओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शराबबंदी कानून को अच्छा बताया है। इन महिलाओं का कहना है कि शराब बंदी होने से वे अब बेखौफ होकर रात में घरों से बाहर निकल पा रही हैं। बिहार के अधिकतर लोग शराबबंदी के समर्थन में हैं। आधे से ज्यादा लोगों का यह मानना है कि राज्य में अवैध शराब की तस्करी को रोकने और धंधेबाजों पर लगाम लगाने के लिए सरकार को और सख्ती और बढ़ानी चाहिए।

मद्यनिषेध विभाग ने बिहार के आठ जिलों के अलग-अलग इलाकों में स्थित करीब चार हजार घरों में शराबबंदी को लेकर एक सर्वे कराया। यह सर्वे चार महीने तक चला। सर्वे में 80 प्रतिशत लोगों ने शराबबंदी का समर्थन किया है। वहीं, 60 प्रतिशत लोगों का कहना है कि शराबबंदी को लेकर और सख्ती बढ़नी चाहिए। इस सर्वे रिपोर्ट की सबसे खास बात यह है कि इसमें 100 फीसदी महिलाओं ने शराबबंदी के प्रति अपनी खुशी जाहिर की। इन महिलाओं का कहना है कि बिहार में शराबबंदी कानून लागू होने के बाद से वे अब बेखौफ होकर घरों से बाहर घूम सकती हैं। महिलाएं दिन ढलने के बाद भी घर से निकल रही हैं। साथ ही साथ व्यापार भी कर रही हैं।

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने साल 2015 में बिहार में शराबबंदी की घोषणा की थी। इसके 1 साल बाद राज्य में शराबबंदी कानून भी लागू हो गया। राज्यभर में शराब के उत्पादन, बिक्री और उपभोग पर बैन लग गया। इस कानून का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ भारी जुर्माना और सजा का भी प्रावधान था। हालांकि इसके बाद में कानून में संशोधन कर जुर्माना राशि को कम कर दिया गया। साथ ही साथ अब शराब पीते हुए पकड़े जाने पर आरोपी को जुर्माना राशि देकर छोड़ा भी जा सकता है, जबकि पहले उसे सीधे जेल भेजा जाता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *