रक्सौल से काठमांडू बिछेगी 136 KM लंबी रेल लाइन, फाइनल सर्वे का काम जारी, जाने कब तक होगा पूरा..

8
Train

डेस्क : बिहार वासियों के लिए एक बड़ी खबर निकल कर सामने आई है। अब बिहार से नेपाल जाना और आसान होगा। क्योंकि इसके लिए एक और नई रेलवे लाइन बिछाई जाएगी। मालूम हो की भारत और नेपाल के रिश्ते पुराने है, दोनों देश के लोग बिना रोक-टोक के एक दूसरे के बॉर्डर पार करते है, दोनों देश की दोस्ती को रखते हुए रक्सौल से काठमांडू तक नई रेल लाइन बिछाने का काम शुरू हो गया हैं।

आपको बता दें कि काठमांडू की टीम फाइनल लोकेशन सर्वे का काम कर रही हैं, नेपाल रेल विभाग के प्रवक्ता अमन चित्रकार ने बताया कि भारतीय की टीम ने सर्वे का काम शुरू कर दिया है, इसके लिए जरूरी यंत्र और उपकरण को भारत से लाने पर नेपाल सरकार किसी तरह का कस्टम शुल्क नहीं ले रही है, फाइनल लोकेशन सर्वे का काम 18 महीने के अंदर पूरा करने का टारगेट रखा गया है।

जानकारी के मुताबिक, रक्सौल से काठमांडू के बीच 136 किलोमीटर (KM) लंबी रेल लाइन बिछाई जाएगी, यह लाइन रक्सौल स्टेशन से शुरू होगी और पंटोका से गुजरते हुए नेपाल में एंट्री करेगी, इसके बाद नेपाल के निजगढ़ से बागमती नदी के किनारे-किनारे काठमांडू के खोकना तक रेल लाइन बनाने का प्राइमरी सर्वे हुआ था। मालूम हो की इस रेलखंड का करीब में 40 किलोमीटर सुरंग के अंदर से गुजरेगा, इस रूट पर 35 बड़े पुल बनाए जाने की योजना हैं, रक्सौल से काठमांडू तक ब्रॉडगेज रेलवे लाइन बिछेगी, इस लाइन के बन जाने के बाद से भारत और नेपाल के संबंधों को नई दिशा मिलेगी।