बिहार के इस शहर में लगेगी 447 करोड़ रुपए की इथेनॉल और सॉफ्ट ड्रिंक फैक्ट्री – मिलेगा रोजगार

डेस्क : जल्द बिहार का एक नया रूप हम सबको देखने के लिए मिलने वाला है। इस बिहार के नए रूप में हमें अनेकों प्रकार के विभागों में नौकरियां एवं तरह-तरह के उद्योग कारखाने बनते हुए नजर आएंगे। इन सभी जगह पर हमें बिहार के युवा काम करते दिखेंगे, बता दें की जब से बिहार के नए उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन बने हैं तब से लगातार बिहार में डेवलपमेंट की घोषणाएं की जा रही है।

हाल ही में हमने देखा था कि बिहार के बेगूसराय जिले में सॉफ्टड्रिंक की फैक्ट्री लगने वाली है। सॉफ्ट ड्रिंक की फैक्ट्री के लिए करोड़ों रूपए का इन्वेस्टमेंट किया जाएगा, वहीं बिहार के भोजपुर जिले में इथेनॉल फैक्ट्री लगाने की योजना चल रही है। बेगूसराय में खुलने जा रही सॉफ्ट ड्रिंक की यूनिट 278 करोड़ 85 लाख रुपए से तैयार की जाएगी, वही भोजपुर की इथेनॉल इंडस्ट्री में 168 करोड़ 42 लाख रुपए का निवेश किया जाएगा।

यदि सॉफ्ट ड्रिंक यूनिट की बात करें तो हर साल बेगूसराय में 1 करोड़ 20 लाख पेटी सॉफ्ट ड्रिंक तैयार की जाएगा। 94 लाख पेटी फ्रूट जूस भी तैयार किया जाएगा। 7 करोड़ पति पीने के पानी वाली बनने जा रही हैं। बात करें भोजपुर के इथेनॉल फैक्ट्री की तो यहाँ पर सालाना 400 किलो लीटर एथेनॉल उत्पादन करने की क्षमता वाली फैक्ट्री तैयार की जाएगी। अनेकों लोगों के लिए यह फैक्ट्री काम की साबित हो सकती है। इथेनॉल इंडस्ट्री लगाने के लिए बिहार डिस्टलरीज एंड बोतल प्राइवेट लिमिटेड को काम सौंपा गया है।

उम्मीद जताई जा रही है कि अगले साल यानी कि फरवरी-मार्च 2022 तक यह दोनों उद्योग शुरू हो जाएंगे और करीब 2000 लोगों को प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रूप से नौकरी मिलेगी। शाहनवाज हुसैन ने कहा है कि अब बिहार जल्द ही इथेनॉल उत्पादन का हब बनने वाला है, बता दें कि इथनोल उत्पादन के जरिए आने वाले समय में पेट्रोल में कम से कम 20% एथेनॉल मिलाया जाएगा। इस वजह से सभी गाड़ियों की एफिशिएंसी बढ़ जाएगी। इथेनॉल इंडस्ट्री के जरिए सरकार पर पड़ने वाले तेल के दाम में भी राहत मिलेगी। फिलहाल के लिए तो 17 कंपनियां बिहार में आ चुकी हैं, जिसमें से चार कंपनियों ने अपने प्लांट तैयार कर दिए हैं और अन्य जमीन का अधिग्रहण चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.