बिहार में “सात निश्चय योजन” के तहत 49 पंचायत बनेंगे ODF प्लस, जानें – कौन कौन से गांव हैं शामिल..

डेस्क : सक्षम बिहार स्वावलंबी बिहार के तहत ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के 7 निश्चय-2 में लक्षित स्वच्छ गांव समृद्ध-गांव के समूचे उद्देश्य की प्राप्ति के लिए जिले में साल 2021-22 के तहत चयनित 49 ग्राम पंचायतों के 174 गांव को ODF प्लस बनाया जायेगा. वहीं साल 2022-23 के लिए 72 ग्राम पंचायंतों का चयन किया जाना है. इसके लिए जिला जल स्वच्छता समिति ने चयनित ग्राम पंचायतों को SBM के तहत राशि व गाइडलाइन भी उपलब्ध करा दिया है. वही दूसरी तरफ पंचायतों में ग्राम पंचायत क्रियान्वयन समिति ने कार्य भी अब शुरू कर दिया है. इन पंचायतों में डुमरा प्रखंड के हरिछपरा पँचायत, सोनबरसा के दोस्तिया, मड़पा और कन्हौली, बाजपट्टी के बेलहिया व हुमायूंपुर व नानपुर के डोरपुर ग्राम पंचायत में कचड़ा संग्रहण का कार्य भी आरंभ हो गया है.

जिले के सभी 258 पंचायत साल 2024-25 तक होंगे ODF प्लस : मिली विभागीय जानकारी के अनुसार, लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान दूसरे चरण में ग्राम पंचायतों द्वारा खुले में शौच से मुक्ति का स्थायित्व एकदम सुनिश्चित करने के लिए सूचना, शिक्षा व संचार के माध्यम से समुदायों का व्यवहार का परिवर्तन, नये परिवारों और छूटे हुए परिवारों को व्यक्तिगत शौचालयों की सुलभता व चरणबद्ध तरीके से ठोस व तरल अपशिष्ट प्रबंधन के द्वारा जिले के कुल 258 ग्राम पंचायतों को साल 2024-25 तक ODF प्लस बनाया जाना है. जिससे जिले के सभी पंचायतों में स्वच्छ गांव व समृद्ध गांव की परिकल्पना को वास्तव में साकार किया जा सकेगा.

49 ग्राम पंचायतों के बीच 6.75 करोड़ रुपये उपावंटित : चयनित कुल 49 पंचायतों के बीच कुल 6.75 करोड़ रुपये उपावंटित कर दिया गया है. उक्त राशि से पंचायत E-रिक्शा, फॉगिंग मशीन व पैडल रिक्शा समेत अन्य संसाधनों की भी व्यवस्था भी करेंगे. बताया गया है कि पंचायतों में इस परियोजना को धरातल पर उतारने के लिए 70 प्रतिशत राशि लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान तो 30 प्रतिशत राशि 15 वीं वित्त आयोग के टाइड फंड से खर्च की जाएगी. जिसमें लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के तहत ग्राम पंचायतों को 60 प्रतिशत राशि उपलब्ध कराया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *