29 घंटे के ड्राइविंग कोर्स के बाद ऐसे झटपट मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस- तुरंत करें अप्लाई

डेस्क : केंद्र सरकार की तरफ से ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के नियमों बदल दिए गए है।ये नियम नागरिकों के फायदे के लिए बनाए गए है।ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए RTO जाने की कोई जरूरत नहीं होगी। सरकार की तरफ से ड्राइविंग लाइसेंस के नियम पहले से काफी आसान हो गए हैं। ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के नए नियमों मे अब आपको आरटीओ जाकर किसी प्रकार का ड्राइविंग टेस्ट नहीं देना पड़ेगा।

ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने की प्रकिया : ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आरटीओ में टेस्ट नहीं देना पड़ेगा। आप ड्राइविंग लाइसेंस के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल में पंजीकरण करवा सकते हैं।जो टेस्ट पास करने के बाद training स्‍कूल एक सर्टिफिकेट भी जारी करेगा। उस सर्टिफिकेट से नागरिकों का ड्राइविंग लाइसेंस बन जाएगा। केंद्रीय सड़क परिवहन और हाईवे मंत्रालय नए नियमों को 1 जुलाई 2022 से लागू करने वाला है। जब नए नियम लागू हो जाएंगे तो उसके बाद लोगो को बहुत राहत म‍िलेगी।

ड्राइविंग लाइसेंस ऐसे बनेगा : ड्राइविंग लाइसेंस के लिए मंत्रालय की ओर से कोर्स बनाया जाएगा।इस कोर्स मे थ्योरी और प्रैक्टिकल होगा। लाइट मोटर व्हीकल (LMV) के लिए कोर्स की अवधि 4 सप्ताह की है जो कि 29 घंटे चलेगा। वहीं प्रैक्टिकल के लिए सड़कों, हाइवे, शहर की सड़क, गांव के रास्‍ते, रिवर्सिंग और पार्किंग आदि के ल‍िए 21 घंटे का समय मिलेगा। बाकी के 8 घंटे आपको थ्योरी की जानकारी दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.