डीजल पेट्रोल के बाद सरसों तेल ने आम लोगों का बिगाड़ा बजट, एक साल से लगातार…

Sarso Tel

न्यूज डेस्क : पेट्रोल डीजल के दाम से जहां सड़कों पर फर्राटा भर रहे वाहन व उनके मालिक तो परेशान हैं ही साथ ही बढ़ते महंगाई का असर अब किचेन में दिखने लगा है । हालांकि अभी महंगाई कम होने का कोई आसार नहीं दिख रहा है। विगत दो महीने में सरसों तेल की कीमत आसमान छूने की ओर बढ़ चला है। इससे पहले प्याज और आलू के रेट बढ़ते ही जा रहे थे ।

महिलाओं का मानना है कि सरसों के तेल में हो रहे बेतहाशा वृद्धि से रसोई घर का बजट बिगड़ चुका है। बढ़ती महंगाई में अर्थवयवस्था को डवांडोल तो करता ही है, साथ ही आम आवाम जनमानस के आजीविका संतुलन में भी मुश्किल पैदा हो रही है। घरेलू सामानों की बढ़ती दर से महंगाई गम्भीर समस्या बनती हुई दिखने लगी है। सरसों तेल के दाम में हो रहे बढ़ोतरी से मेहनतकशों की कमाई हवा में उर रही है। रसोई तेल के अलावे दाल , चावल व अन्य खाद्य सामग्रियों में नियमित बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। बताते चलें कि रसोई तेल के दाम में बढ़ोतरी विगत साल लॉकडाउन से ही अप ( बढ़ते क्रम ) में है। हालांकि बीच के अक्टूबर महीने को अपवाद में रखा जायेगा क्योंकि यही वह एक महीने है जब सरसों तेल का बीते महीने से कुछ कम हुआ था । देखें लिस्ट

विगत साल से अबतक हर महीने रसोई तेल की कीमत प्रति लीटर

  • अप्रैल : 84.30 ₹
  • मई : 86.50 ₹
  • जून : 88.88 ₹
  • जुलाई : 93.00 ₹
  • अगस्त : 95.22 ₹
  • सितम्बर : 98.50 ₹
  • अक्टूबर : 92.00 ₹
  • नवम्बर : 107.70 ₹
  • दिसम्बर : 111.70 ₹

साल 2021

  • जनवरी : 116.00 ₹
  • फरबरी : 129.00 ₹

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *