‘KGF-2’ में संजय दत्त को अपार सफलता मिलने के बाद, बॉलीवुड इंडस्ट्री को लेकर कह दी ये बड़ी बात..

5
sanjay dutt

डेस्क : अभी हाल ही में भारतीय सिनेमाघरों में साउथ के सुपरस्टार कहे जाने वाले यश की पावर फुल फिल्म ‘केजीएफ का अध्याय 2 यानी कि KG-2 को दर्शकों के बीच रिलीज कर दिया गया। आपको बता दें कि रिलीज के बाद से ही दर्शकों का खूब सारा प्यार मिल रहा है। यहां तक की बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा कर रख दिया है।

रिलीज के साथ ही इस फिल्म ने बाकी सारी फिल्मों को पिछे छोड़ दिया हैं। कई राज्यों में इस फिल्म की टिकट नहीं मिल रही हैं। इस फिल्म ने महज 2 दिन में ही 552 करोड़ से ज्यादा की कमाई की हैं। आपको बता दे की इस फिल्म में यश के साथ ही बॉलीवुड इंडस्ट्री के बादशाह कहे जाने वाले एक्टर संजय दत्त भी अहम भूमिका में नजर आ रहे हैं। उन्होंने फिल्म में ‘अधीरा’ की भूमिका निभाई है।

‘अधीरा’ के लुक ने हर किसी का ध्यान अपनी तरफ खींचा। संजय दत्त के लुक और शानदार अभिनय ने सबका ध्यान खीच लिया हैं। इसी बीच हाल ही में संजय दत्त से एक इंटरव्यू के दौरान पूछा गया कि- साउथ फिल्मों और हिंदी फिल्मों के बीच क्रिएटिविटी में क्या अंतर हैं। इसका जवाब देते हुए संजय दत्त कहते हैं कि हिंदी फिल्म इंडस्ट्री हीरोइज्म को भूल गई है, जबकि साइट इंडस्ट्री नहीं भूली।

जब आगे उनसे पूछा गया कि- क्या एक्शन से भरपूर इन बड़ी टिकट वाली फिल्मों के कारण ही साउथ इंडस्ट्री बॉक्स ऑफिस पर बड़ी सफलता हासिल कर रही है? जिस पर संजय दत्त कहते हैं कि- “मुझे लगता है कि हिंदी फिल्म इंडस्ट्री हीरोइज्म या साहस को भूलती जा रही है, जबकि साउथ फिल्म इंडस्ट्री इस बात को नहीं भूली। मुझे उम्मीद है कि हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में यह चलन वापस आएगा। गौरतलब है कि KG-2 रिलीज होने के बाद से ही दुनिया भर के सिनेमाघरों की 10,000 स्क्रीन्स चलाई जा रही हैं। पहले दिन इसके 50,000 से ज्यादा शो दिखाए गए हैं। अभी तक इस फिल्म की लोकप्रियता खत्म नहीं हुई हैं।