राजदूत : आम भारतीय की पहली मोटरसाइकिल, जानें अब कहाँ खो गई

Rajdoot Bike In Village

डेस्क : भारत में लोगों को दोपहिया वाहन चलाना बेहद ही पसंद है। कोई भी व्यक्ति अपनी जिंदगी की शुरुआत में दो-पहिया वाहन चलाने में बेहद ही रूचि रखता है। एक समय ऐसा था, जब लोग राजदूत बाइक के दीवाने थे। लेकिन जब राजदूत ने भारत के लोगों के दिल और दिमाग में छाप छोड़ी तो वह कुछ इस तरह रही की आज तक वह छाप छोड़े नहीं छूटती। राजदूत के दीवाने भारतवासी ऐसे ही नहीं हो गए हैं। दरअसल जब राजदूत ने भारत में कदम रखा तो उसको लोगो ने पसंद नहीं किया था। वह भारतीय बाजार में अपने आपको स्थापित करने में विफल रही थी।

इसके बाद राजदूत मोटरसाइकिल का निर्माण करने वालो ने थोड़ा दिमाग लगाया और भारत के लोगों को यह मोटरसाइकिल खरीदवाने के लिए बॉबी फिल्म(1973) में ऋषि कपूर से इस मोटर साइकिल को चलवाया गया। जब लोगों ने परदे पर देखा की ऋषि कपूर राजदूत मोटर साइकिल हवा से बातें कर रहे हैं तो उन्होंने धड़ल्ले से मोटर साइकिल खरीदी और रातों रात कंपनी की बिक्री बढ़ गई। इस मोटर साइकिल को गाँव और शहर के लोगों ने जमकर पसंद किया था। लेकिन मात्र 10 साल के बाद इस बाइक का वही हाल हो गया। नुकसान झेलने के कारण मोटरसाइकिल को बाजार से हटा दिया गया। लेकिन, वह इतनी ज्यादा प्रचिलित हो गई की अभी भी लोगो के घरों में खड़ी दिख जाती है।

फिलहाल, अब यह मोटर साइकिल कहीं भी दिखती है या इसका ज़िक्र होता है तो लोग इसकी तारीफ करने में कोई कमी नहीं छोड़ते हैं। वह बताते हैं की यह मोटरसाइकिल 150 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार काफी आसानी से छू लेती थी। भारत सरकार ने अपने अधिकारियों को यह मोटर साइकिल दी थी की वह दूर के रास्तो में इसको लेकर जा सकें और समय रहते काम कर सकें। राजदूत का मार्किट भारत से इसलिए भी ख़त्म हो गया क्यूंकि इसके स्पेयर पार्ट्स बेहद ही ज्यादा महंगे थे और वह आसानी से बाजार में नहीं मिलते थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *