Bank Privatization: सरकार जल्द ही कर देगी इन दो बैंकों को Privatization, सरकार की है पूरी तैयारी

डेस्क : सरकार के फैसलों की अक्सर हम बात करते है ऐसे इसबार भी सरकार एक बड़ा कदम उठाने जा रही है। जल्द ही केंद्र सरकार दो सरकारी बैंकों और कुछ कंपन‍ियों का प्राइवेटाइजेशन की प्रक्रिया शुरू करने जा रही है।

Bank निजीकरण: सरकार प्राइवेटाइजेशन का काम तेजी से क‍िया जा रहा है. कुछ कंपन‍ियों और बैंकों का न‍िजीकरण हो चुका है।अब दो और बैंकों के प्राइवेटाइजेशन होने जा रहा है. सरकार जल्‍द ही उचित कदम उठाएगी।2021-22 के बजट में सरकार ने दो सरकारी बैंकों के पंजीकरण की इच्‍छा जताने के साथ ही विनिवेश की नीति को स्वीकृति दी गई थी। दो बैंकों के निजीकरण के लिए काम चल रहा है।

भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड (BPCL) का (Disinvestment) वाली प्रक्रिया भी प्रगति पे है। इसके लिए नीलामी की तैयारी की जा रही है। सरकार ने बीपीसीएल (BPCL) में पूरी 52.98 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने की योजना बनाई थी।बीपीसीएल ने मार्च 2020 में ब‍िडर्स से लेटर ऑफ इंटरेस्‍ट की मांग की थी। कंटेनर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (कॉनकोर) की रणनीतिक बिक्री को लेकर कुछ मुद्दे हैं और उनके सॉल्‍यूशन के बाद विनिवेशशुरू की जाएगी।

कौन है वो दो सरकारी बैंक?केंद्र सरकार दो सरकारी बैंकों का privatization करने जा रही है, उनके नाम है सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया और इंडियन ओवरसीज बैंक जो कि जल्द ही निजीकरण किया जा सकता है। कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता में इसकी मंजूरी के लिए स्वीकृति मांगी जाएगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस डील पर फाइनल मुहर लगाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.