न्याय की गुहार! लड़की ने लगाया पुलिसकर्मियों पर बलात्कार का आरोप – 12 हजार की नौकरी दिलाने के नाम पर युवती से दुष्कर्म

डेस्क : एक बार फिर से शर्मसार कर देने वाली घटना निकल कर सामने आई है जहाँ पर एक लड़की कोलकाता से पश्चिम चंपारण जिले में नौकरी की तलाश में आई थी। उसको 12000 रूपए का ऑफर दिया गया था। नौकरी पाने की तलाश में लड़की को नहीं पता था की वह किसके चंगुल में फंसने जा रही है। लड़की को बताया गया था की उसको कैटरिंग का काम मिलेगा। लड़की के बारे में बताया जा रहा है की वह ओर्केस्ट्रा के लोगों से भी समबन्ध रखती थी। हालाँकि लड़की ने ओर्केस्ट्रा के मालिक और पुलिस वालो पर भी रेप का आरोप लगाया है।

महिला थानाध्यक्ष राणा रणविजय सिंह का कहना है की लड़की द्वारा लगाए गए आरोप बेबुनियादी हैं, इस वजह से प्राथमिकी दर्ज करवाने की कोई जरूररत नहीं समझी गई। लड़की का कहना है की भपटा गांव का रहने वाला मुन्ना गुप्ता लड़की को कैटरिंग का काम दिलाने की बजाय उसको ओर्केस्ट्रा में ले आया और उससे जबर्दस्ती नचवाने लगा। इसके बाद उसने लड़की के साथ जोर जबरदस्ती की। लड़की का कहना है की वह शराब पीकर उसके साथ रेप करता था, इतना ही नहीं दूसरों को भी वह बुला के रेप करवाता था। लड़की का कहना है की उसके पास पुलिस वाले भी आते थे उनके पास पिस्टल भी होती थी और सब एक एक करके रेप करते थे।

वह कई बार भागने की कोशिश कर चुकी है लेकिन हमेशा मुन्ना के आदमी उसको पकड़ के लाते थे और रात भर पीटते थे। पीटते वक्त वह यह नहीं देखते थे की लड़की को कहाँ चोट आ रही है है वह बस लगातार मारते चले जाते थे लेकिन 24 सितम्बर की रात को वह भागने में कामयाब हो गई और साठी थाने में जाकर रिपोर्ट लिखवाई। साठी थानाध्यक्ष उदय कुमार का कहना है की यह सारी बातें बेबुनियादी हैं। इस प्रकार की कोई जानकारी नहीं है की हमारे थाने का कोई भी पुलिस वाला इस ओर्केस्ट्रा में आता जाता हो। हम इस मामले की जड़ तक जाने का पूरा प्रयास कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.