बिहार को मिली Double Decker Flyover की सौगात – अब हर जिले में पहुंचना हुआ और आसान

Bihar Double decker flyover

डेस्क : बिहार में आबादी का स्तर बढ़ रहा है। आबादी के बढ़ने से परिवहन जगत में भी तेजी आ गई है। लोग एक शहर से दूसरे शहर मिनटों में पहुंचना चाहते हैं, बता दें कि बिहार की राजधानी पटना इस वक्त सर्वाधिक व्यस्त क्षेत्र में से एक है। ऐसे में पटना के अशोक राजपथ से कारगिल चौक तक फ्लाईओवर बनाने का कार्य चालू किया गया है। यह फ्लाईओवर अन्य फ्लाईओवर की तरह नहीं है बल्कि यह डबल डेकर फ्लाईओवर है। डबल डेकर फ्लाईओवर का निर्माण इसलिए किया जा रहा है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग एक जगह से दूसरी जगह पर कम समय के भीतर जा सके। गाड़ी पर गति का प्रभाव ना पड़े इसलिए लोगों को एक जगह से दूसरी जगह जल्द पहुंचने का मौका मिलेगा।

यदि कोई भी व्यक्ति इस फ्लाईओवर का इस्तेमाल करता है तो उसको 5 घंटे के भीतर ही अपने गंतव्य स्थान तक पहुंचाया जा सकेगा। इस फ्लाई ओवर की आधारशिला रखने के लिए पथ निर्माण मंत्री और मुख्यमंत्री मौजूद थे। डबल डेकर फ्लाईओवर बनाने के लिए 422 करोड़ रुपए की लागत आई है। ऐसे में यह फ्लाईओवर 2 किलोमीटर लंबा है, बता दें कि इसका पूरा निर्माण करने का लक्ष्य 3 सालों के लिए निर्धारित किया गया है। बिहार में इससे पहले सारण -छपरा में डबल डेकर फ्लाईओवर मौजूद है।

इस फ्लाईओवर की खासियत

  • पहला फ्लोर 1.5 किलोमीटर लंबा
  • दूसरा फ्लोर 2.20 किलोमीटर लंबा
  • दोनों फ्लोर की चौड़ाई 7.50 मीटर लंबा

ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि फ्लाईओवर का पहला फ्लोर अशोक राजपथ के कृष्णा घाट से शुरू होकर बीएन कॉलेज के पास खत्म होगा, वही इसका एक हिस्सा पीएमसीएच तक जाएगा। यदि दूसरे फ्लोर की बात करें तो वह कारगिल चौक से शुरू होकर एनआईटी के पास खत्म होगा, जिसका एक हिस्सा गांधी मैदान से होते हुए पीएमसीएच पहुंचेगा।

मुख्यमंत्री का कहना है कि पहले किसी को यात्रा करनी होती थी तो उसको अलग-अलग जगह से होते हुए अपने गंतव्य स्थान तक पहुंचना होता था, लेकिन आज हर व्यक्ति सड़क और फ्लाईओवर के माध्यम से कहीं भी पहुंच सकता है। JDU के नेताओं ने उम्मीद जताई है कि मीडिया इन चीजों को जरूर दिखाएगा। फिलहाल मुख्यमंत्री ने लोगों को अवगत करवाया की कोरोना का खतरा टला नहीं है जिसके चलते सावधानी बरतना बेहद ही ज्यादा जरूरी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पीएमसीएच में 5400 बेड का अस्पताल तैयार करने की बात कही। साथ ही निर्माण कार्य और अस्पताल के बारे में चर्चा करते हुए कहा कि बिहार एक नई दिशा की ओर जा रहा है। जहां पर फोरलेन सड़क आना संभव नहीं थी वहां पर हमने इसको लाकर एक अलग ही कीर्तिमान स्थापित कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Divya Aggarwal ने जीता BigBossOTT-जानें ट्रॉफी के साथ कितना मिला कैश ? Jio अब बजट रेंज में लॉन्च करेगा लैपटॉप, ये होंगे कीमत और Features Airtel vs Vi vs Jio : जानें 600 रुपये से कम वाला किसका रिचार्ज प्‍लान सबसे बेस्‍ट शर्दी को दूर रखना चाहते है तो इन 5 Room Heaters के बारे में जरूर पढ़ें इसी साल रिलीज होंगी ये 5 धमाकेदार वेब सीरीज