विपक्ष के हमले के बाद एक्शन में बिहार सरकार, राज्य में शराब माफियाओं के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई

डेस्क : विपक्षी दलों द्वारा लगातार शराबबंदी पर उठाए जा रहे सवाल के बाद बिहार सरकार एक्शन में आ गई है। पिछले कुछ दिनों में शराब माफियाओं पर ताबड़तोड़ कई जगह कार्रवाई की गई है, जिसमें हजारों लीटर शराब बरामद हुआ है। गौरतलब है कि शराबबंदी को लेकर बिहार विधानसभा के भीतर भी खूब हंगामा हुआ था। विपक्ष सरकार पे शराब तस्करों से मिले होने का आरोप लगा रहा है।

इन जगहों से शराब बरामद- बुधवार को पटना जिला प्रशासन , उत्पाद विभाग और पुलिस के संयुक्त रूप से कारवाई में 340 लीटर चुलाई शराब और 12 हजार लीटर से अधिक अर्धनिर्मित शराब बरामद हुआ है। दानापुर के पश्चिम कासिम चक दियारा से भी 175 लीटर चुलाई शराब और 8600 लीटर अर्धनिर्मित शराब जब्त किया गया। कटिहार में भी सोनैली पूर्णियां पथ के हलधर पुर के पास पुलिस ने ओमनी वैन से 100 लीटर विदेशी शराब जब्त किया है। तो वहीं जहानाबाद के घोसी थाने की पुलिस ने बुधवार की रात झुनकी घाट के पास एक ट्रक से 300 कार्टून विदेसी शराब बरामद किया है। इसके अलावा भी राज्य में कई जगहों पर कारवाई की गई है।

विपक्ष है हमलावर- राज्य में शराबबंदी को लेकर के समूचा विपक्ष नीतीश कुमार पर हमलावर है। तेजस्वी यादव ने नीतीश कुमार पे आरोप लगाया है कि वे सबसे बड़े शराब माफिया हैं। उन्होंने आगे बोलते हुए कहा कि उनके मंत्री लोग ही शराब का व्यापार करवा रहा हैं। विपक्ष के इन आरोपों से सरकार की खूब किरकिरी हो रही थी। बिहार विधानसभा में भी शराबबंदी को लेकर के खूब हंगामा हुआ था। इसके बाद बिहार सरकार एक्शन मोड में आ गई है और शराब तस्करों के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई की जा रही है। राज्य के मद्य निधेष मंत्री ने भी शराब तस्करों को चेतावनी देते हुए कहा है की शराब तस्करों को दूसरे राज्यों से भी पकड़ के लाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.