बिहार में अब बिजली चोरी पर लग जाएगा लगाम , जानें – विद्युत विभाग का पूरा प्लान

बिहार में अगले साल तक बिजली चोरी पर लगभग फुल स्टॉप लग जाएगा. बिहार विद्युत विभाग ने इसकी तैयारी भी कर ली है. दरअसल, मार्च 2023 तक राज्य के सभी 11 KV फीडर पर बिजली मीटर लग जायेंगे. इसके साथ ही मुहल्लों में लगे 5 लाख डिस्ट्रीब्यूशन ट्रांसफॉर्मरों पर भी दिसंबर 2023 तक मीटर इंस्टॉल भी कर दिया जायेगा. इससे बिजली चोरी पर लगाम भी लगेगी, जिसका फायदा बिजली कंपनी के साथ ही सीधा उपभोक्ताओं को भी होगा.

चोरी पर लगाम लगाने के लिए होगी ये कवायद : बिहार स्टेट पावर होल्डिंग कंपनी के अधिकारियों के मुताबिक बिजली चोरी पर लगाम लगाने के लिए अब लोगों के घरों के अलावा ट्रांसफॉर्मर व फीडर में भी मीटर लगाए जा रहे हैं. इसके लगने मात्र से बिजली खपत का सही आंकड़ा सामने आ सकेगा. इसके आधार पर ही कंपनी बिजली चोरों के खिलाफ छापेमारी करेगी. चोरी रुकने पर बिजली और भी सस्ती होगी, जिसका लाभ आम उपभोक्ताओं को ही होगा.

29 जिलों में जल्द जारी होगी ये निविदा : अधिकारियों के अनुसार फीडर व ट्रांसफॉर्मर में मीटर लगाने का काम केंद्र प्रायोजित RDSS योजना के तहत की जा रही है. 33 KV फीडर में मीटर लगाने का काम अंतिम चरण में है. 80 फीसदी से अधिक 33 KV के फीडरों में मीटर लगा दिया गया है. 11KV के फीडर में मीटर लगाने की प्रक्रिया भी शुरू है. केंद्र सरकार ने दिसंबर 23 तक सभी 11KV फीडर में मीटर लगाने का लक्ष्य दिया है, लेकिन बिजली कंपनी दिसंबर के बदले मार्च 23 तक ही यह लक्ष्य हासिल करने में जुटी हुई है. फीडर के बाद गली-मोहल्लों में लगे 5 लाख से अधिक ट्रांसफॉर्मरों में भी मीटर लगाये जायेंगे. कंपनी के मुताबिक सूबे के 9 जिले के ग्रामीण इलाकों में प्रीपेड मीटर लगाने का काम शुरू कर दिया गया है. बाकी 29 जिलों के लिए जल्द ही निविदा भी जारी की जायेगी. दिसंबर 23 तक सभी जिलों के ट्रांसफॉर्मरों में अब मीटर लगा लिये जायेंगे.

Leave a Comment