शेरशाह : जब कैप्टन विक्रम बत्रा ने अपना अंगूठा काटकर भरी थी डिंपल चीमा की मांग – सच्ची घटना पर आधारित एक फौजी की जीवनगाथा

डेस्क : आज के समय में किसी न किसी वजह हर फिल्म सुर्खी बन जाती है। ऐसे में कोई फिल्म इंडियन आर्मी पर आए और लोग उसको न देखें ऐसा हो नहीं सकता। इस फिल्म का नाम शेरशाह है। शेरशाह नाम की फिल्म खूब सुर्खियां बटोर रही है। बता दें की यह फिल्म इंडियन आर्मी के कप्तान विक्रम बत्रा के जुड़वा भाई विशाल बत्रा पर बनी है। विशाल बत्रा के निजी ज़िन्दगी की झलकियां भी इसमें मौजूद है। इस फिल्म में विशाल बत्रा का किरदार सिद्धार्थ मल्होत्रा निभा रहे हैं।

शेरशाह में विक्रम बत्रा की माशूका(डिंपल चीमा ) का रोल कियारा आडवाणी निभा रही हैं। कहानी के अनुसार डिंपल और विक्रम के प्यार की कहानी 1995 में शुरू हुई थी। दोनों चंडीगढ़ की पंजाब यूनिवर्सिटी में मिले थे। दोनों एक ही कोर्स कर रहे थे और दोनों को डिग्री नहीं मिली थी। विक्रम 1996 में देहरादून की मिलिट्री अकादमी में शामिल हो गए थे। इस घटना के बाद वह काफी खुश थे। दोनों साथ में यानी की विक्रम और डिंपल मनसा देवी मंदिर और गुरुद्वारा श्री नंदा साहब जाया करते थे। ऐस में एक बार विक्रम ने डिंपल से कहा था की ‘बधाई हो मिसेज बत्रा, क्या तुम्हें पता हम चौथी बार परिक्रमा कर रहे हैं।

कमिटमेंट के पक्के थे कप्तान विक्रम

डिंपल, विक्रम के सच्चे कमिटमेंट को देखकर स्तब्ध रह गईं थी। एक बार विक्रम ने अपने बैग से ब्लेड निकालकर अपना अंगूठा काट डिंपल की मांग भर दी थी। विक्रम अपने बटुए में अक्सर एक ब्लेड रखते थे, जिसका इस्तेमाल उन्होंने अपने प्यार को पाने के लिए किया। लेकिन किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया क्यूंकि उनकी मोहब्बत अधूरी रह गई थी। डिम्पल ने बताया की यही उनकी जिंदगी का सबसे अच्छा पल था, विक्रम के अलावा उनको दुनिया में कोई प्यारा नहीं था। डिंपल ने भी अपने प्यार के लिए पूरी ईमानदारी दिखाई और किसी से शादी नहीं की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *