गर्व! बिहार की बेटी माउंट एवरेस्ट के बेस कैंप पर लहराया तिरंगा..

डेस्क : बिहार के कोसी का पूरा इलाका समृद्धि और ज्ञान से भरा हुआ है. एक से एक विभूतियों ने सहरसा और कोसी का नाम देश दुनिया तक पहुंचाया भी है. इसी कड़ी में जिले के बनगांव की बेटी लक्ष्मी झा ने एक नया कीर्तिमान भी स्थापित किया है. उन्होंने मात्र नौ दिन के अंतराल में ही नेपाल स्थित काला पत्थर पिक और माउंट एवरेस्ट बेस कैंप तक पहुंचकर तिरंगा झंडा को भी फ़हराया है. वे एवरेस्ट तक पहुंचने वाली बिहार की पहली बेटी भी बनी हैं. उन्हें यह सफलता काफी संघर्ष के बाद ही मिली है. उन्हें इस मुकाम तक पहुंचाने में उनकी मां सरिता देवी का काफी सहयोग भी रहा है. जिनकी प्रेरणा एवरेस्ट पर फतह करने में उनकी सहायक भी बनीं

लक्ष्मी की इस सफ़लता और अपने संघर्ष की कहानी उनकी मां सरिता देवी ने बताई. उन्होंने बताया कि मेरे 4 बच्चों में लक्ष्मी झा छोटी है. जब वो हुई तो उसी समय उनके पिता का निधन भी हो गया. रोजी रोटी का कोई सहारा नहीं होने के कारण गांव के ही कई घरों में चूल्हा-चौका संभाल कर भी परिवार की गाड़ी खिंचती ही रही. साथ ही चारों बच्चों का लालन-पालन भी करती रही. अपने बड़े 2 भाई और एक बहन के साथ लक्ष्मी बड़ी होती रही. बड़े भाई श्याम झा ने जहां गांव में ही किताब की एक दुकान खोल ली. वही छोटे भाई गणेश झा ने पढ़ाई को जारी रखा और बड़े भाई दुकान में भी मदत दे रहे हैं. लक्ष्मी ने मैट्रिक और इंटर के बाद BA की परीक्षा पास की. फिर ग्रुप D की परीक्षा को पास कर पटना स्थित सचिवालय में सहायक कर्मचारी भी बनीं. साल 2019 में उन्होंने सचिवालय में नौकरी में सफ़लता हासिल की

Leave a Comment