Bihar के शिक्षकों को मिली नई जिम्‍मेदारी, अब श्रावणी मेला में कांवरियों को नचाएंगे गुरुजी..

डेस्क : श्रावणी मेला 2022 बिहार मे गुरुजी को कांवरियों को नचाने की नई जिम्मेदारी मिली है। सांस्कृतिक मंच पर लगी हाई स्कूल के 30 शिक्षकों की ड्यूटी में उनको गायन वादन और कांवरियों का मनोरंजन करने के लिए कहा गया है। गुरुजी को मिलने वाली ड्यूटी अक्सर चर्चा में बनी रहती है कभी जनगणना, कभी मतगणना, पशु गणना, यह सब काम पुराना हो गया है। शराबी को पकड़वाना, खुले में शौच वालों की निगरानी करना, यह सब काम भी अब शिक्षकों की जिम्मेदारी थी।

जिला प्रशासन ने शिक्षकों को नई जिम्मेदारी सौंपी है। उन्होंने मेला में आने वाले भक्तों को मनोरंजन करवाने के लिए शिक्षकों को कहा गया है। गुरुजी गायन वादन के माध्यम से कांवरियों को नचवा आएंगे। ताकि उनकी थकान दूर हो सके। हाई स्कूल के 2 दर्जन से अधिक संगीत शिक्षकों की ड्यूटी लगाई गई है। उनका ऑडिशन बुधवार को होगा। पिछले कुछ सालों से इस मंच पर दूरदर्शन और आकाशवाणी के कलाकारों की प्रस्तुति होती थी। लेकिन इस बार हाई स्कूल के संगीत के शिक्षकों को पढ़ाई छोड़ कर कांवरियों की सेवा में ड्यूटी लगा दी गई है।

संगीत शिक्षक जहां पर अपनी कला का प्रदर्शन भी करेंगे इस सांस्कृतिक मंच का शुभारंभ 14 जुलाई को संगीत शिक्षकों के माध्यम से होगा। हाई स्कूल के संगीत शिक्षकों की तैनाती कांवरिया मेला मंच पर अब होगी। कांवरिया पथ पर अबरखा के पास प्रशासनिक टीम हर साल सांस्कृतिक मंच बनाती है। अब आगे देखना यह है कि यह गुरुजी शिव भक्तों का मनोरंजन ठीक प्रकार से कर पाते हैं या नहीं??

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *