बिहार बनेगा मेडिकल कॉलेज का हब, अगले 4 सालों में बनेंगे 11 शानदार मेडिकल कॉलेज, जानिए- किन किन जिलों में होगा निर्माण

डेस्क: बिहार सरकार के प्रयास लगातार स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए नए-नए प्रयास किए जा रहे हैं, विगत हाल ही के दिनों में बिहार का तीसरा एम्स दरभंगा में स्थापित किया गया, लेकिन इसी एक और खबर आ रही है कि बिहार में अगले 4 साल में मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़कर 30 तक हो जाएगी। मीडिया को जानकारी देते हुए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे ने बताया “राज्य में फिलहाल 19 मेडिकल कॉलेज काम कर रहे हैं ज़िसमें सरकारी और निजी मेडिकल कॉलेज शामिल हैं, वही वर्तमान में 19 मेडिकल कॉलेज के अलावा 11 नए मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य चल रहा है जिसमें पूर्णिया, समस्तीपुर और छपरा यानि 3 मेडिकल कॉलेज अगले 2 साल में चालू हो जाएगा।

आगे उन्हें जानकारी साझा करते हुए बताया की मेडिकल की पढ़ाई के साथ इलाज भी शुरू हो सकेगा, जबकि बाकि 8 मेडिकल कॉलेज अगले 4 साल के भीतर शुरू हो जाएगा। इसको लेकर युद्ध स्तर से निर्माण कार्य जारी है। आगे उन्होंने कहा कि आने वाले दिनों में अस्पतालों में बड़ी संख्या में बेड की बढ़ोतरी होगी जिसके बाद बेड की संख्या बढ़कर साढ़े 10 हजार तक पहुंच जाएगी, एक तरफ जहां 5462 बेड का पीएमसीएच (PMCH) वर्ल्ड क्लास अस्पताल बन रहा है वहीं बाकि 500-500 बेड का 11 मेडिकल कॉलेज का निर्माण हो रहा है, केंद्र सरकार ने स्वीकृति दे दी है और कुल 2000 बेड सदर और अनुमंडलीय अस्पतालों में भी बढ़ेगा।

इन जिलों में मेडिकल कॉलेज का निर्माण हो रहा है:

जानकारी के लिए आपको बता दें कि जिन 11 मेडिकल कॉलेज का निर्माण हो रहा है उनमें बेगूसराय, समस्तीपुर, पूर्णिया, छपरा, सीवान, सीतामढ़ी, झंझारपुर, महुआ, डुमरांव, जमुई और भोजपुर शामिल हैं, हालाकि भोजपुर, डुमरांव और बेगूसराय में निर्माण कार्य शुरू नहीं हुआ है लेकिन निविदा का काम पूरा हो चुका है और यहां भी जल्द ही निर्माण कार्य शुरू हो सकेगा, स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सभी 30 मेडिकल कॉलेज जब चालू हो जाएगा तो बाकि अस्पतालों पर से मरीजों का दवाब काफी हद तक कम होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.