बिहार के राकेश पर आया फ्रांस की मैरी का दिल, सात समंदर पार आकर बेगूसराय में हिंदू रीति-रिवाज से की शादी, देखे खूबसूरत फोटो..

36
Bihar Begusarai Marriage

डेस्क: ऐसा कहा जाता है कि प्यार शब्द का ना ही जान है और ना पहचान है ना ही कोई अस्तित्व है। बस प्यार को महसूस किया जाता है, ऐसा महसूस होता है की जैसे की कोई अपनापन हो, हमारे संस्कार में प्यार के रिश्ते को सबसे ऊंचा दर्जा दिया जाता हैं। लेकिन आज आप लोगों को जो स्टोरी बताने जा रहे हैं, जिसे सुनकर आप भी कहेंगे वाकई में प्यार होता है, बता दें कि सात समुंदर पार पेरिस की एक लड़की को भारतीय लड़का यानी बिहारी लड़का से प्यार हो जाता है, जो कि मूल रूप से बेगूसराय जिला का रहने वाला है, बता दे की प्यार को कोई पागलपन समझ लेता है., तो कोई अपना सफलता का मार्गदर्शन.,

लेकिन पेरिस के रहने वाली मैरी ने अपने प्यार के लिए जो किया वह वाकई में काबिले तारीफ है.. उसने अपने प्यार को एक पवित्र रिश्ता में बदलते हुए बेगूसराय के राकेश के साथ शादी करने का प्रस्ताव दिया, राकेश ने भी यह रिश्ता अपनाते हुए हां भर दिया., फिर उसके माता-पिता को इस बात की भनक लगी तो उसने भी इस रिश्ता को अपना लिया, और दोनों की शादी करने की बात मान ली, जब शादी की बात चली तो मैरी ने जो बात कहा..उसे सुन के हर भारतीय के दिल खुश हो जाएगा,

दरअसल मैरी ने कहा हम शादी तो जरूर करेंगे,, लेकिन हमें भारतीय संस्कृति बहुत पसंद है इसीलिए हम भारत जाकर राकेश के माता-पिता के उपस्थिति में और भारतीय संस्कार के बीच रहकर शादी करेंगे, फिर दोनों अपने प्यार को पवित्र रिश्ता को बदलने के लिए सात समुंदर पार इंडिया बिहार के बेगूसराय में आकर 21 नवंबर के दिन शादी कर ली, बता दे की दोनों की शादी हिंदू रीति रिवाज के साथ धूमधाम से की गई,

बता दें कि जब दोनों की शादी हुई तो विदेशी दुल्हन को देखने के लिए ग्रामीणों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी, शादी संपन्न होने के बाद अगले दिन सोमवार को भी विदेशी दुल्हन को देखने के लिए घर पर रिश्तेदारों और ग्रामीणों का तांता लगा रहा बेगुसराय के भगवानपुर प्रखंड के कटहरिया निवासी रामचंद्र साह के पुत्र राकेश कुमार ने पेरिस की रहने वाली बिजनेसमैन मैरी लोरी हेरल के साथ सनातन परंपरा के मुताबिक विवाह रचाया, मैरी के साथ उसके माता भी शादी में शामिल होने आए थे। अगले सप्ताह दूल्हा और दुल्हन पैरिस लौट जाएंगे।

बताते चलें कि राकेश दिल्ली में रहकर देश के विभिन्न हिस्सों में टूरिस्ट गाइड का काम करता था, इसी दौरान करीब छह साल पहले उसकी दोस्ती भारत घूमने आई मैरी के साथ उसकी मुलाकात में हुई, भारत से अपने देश जाने के बाद दोनों की बातचीत कब प्यार में बदल गई किसी को पता नहीं चला। इसके बाद करीब 3 साल पहले राकेश भी पेरिस चला गया। वहा राकेश मैरी के साथ मिलकर पार्टनरशिप में कपड़ा का व्यवसाय करने लगा, कपड़ा का व्यवसाय करने के दौरान दोनों का प्यार और गहरा होता गया