देश के 62 नए एयरपोर्ट को पीछे छोड़ा बिहार का दरभंगा एयरपोर्ट, पूरे 1 साल में बनाया नया रिकॉर्ड.. जानें-

न्यूज डेस्क: मिथिलांचल वासियों का गौरव दरभंगा एयरपोर्ट उड़ान सेवा के क्षेत्र में पूरे 1 साल पूरा कर लिया है, इस दरमियान यह एयरपोर्ट न जाने कितने रिकॉर्ड को तोड़कर नए-नए कीर्तिमान को हासिल किया। पिछले साल 18 नवंबर 2020 को यहां से पहली उड़ान की शुरुआत हुई थी। इतने कम समय में इस एयरपोर्ट ने पूरी सुविधाएं बहाल न होने के बावजूद कई उपलब्धियां हासिल कर ली हैं, रीजनल कनेक्टिविटी स्कीम के तहत देश में दरभंगा सहित 63 शहरों में एयरपोर्ट खोले गए थे। इन 63 एयरपोर्ट्स में यात्रियों के आने-जाने के मामले में दरभंगा हवाई अड्डा लगातार नंबर वन पर है।

मिथिलांचल ही नहीं बिहार का गौरव बनता जा रहा है यह एयरपोर्ट:

आपको बता दें की बिहार में हवाई सेवा की अपार संभावनाएं हैं, केंद्र सरकार ने भी बिहार को एविएशन मैप पर लाने की योजना बनाई है। पटना और गया के अलावा अन्‍य छोटे शहरों में भी हवाई यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ रही है। तभी तो महज 1 साल में ही दरभंगा एयरपोर्ट ने यात्रियों के मामले में उम्मीद से बेहतर प्रदर्शन किया है। दरभंगा एयरपोर्ट ने हवाई यात्रियों के मामले में देश के 63 नए एयरपोर्ट्स को पीछे छोड़ दिया है।

63 नए एयरपोर्ट में दरभंगा एयरपोर्ट नंबर वन पर:

बताते चलें कि मोदी सरकार ने रीज़नल कनेक्टिविटी स्कीम के तहत देश में 63 नए एयरपोर्ट खोले हैं, जिसमे दरभंगा एयरपोर्ट भी शामिल है, सभी 63 नए एयरपोर्ट्स की तुलना में दरभंगा आने और जाने वाले यात्रियों की संख्या सबसे ज्यादा है, पिछले 11 महीने में इस एयरपोर्ट से तकरीबन 4.60 लाख यात्रियों ने टेक ऑफ और लैंड किया है। इस एयरपोर्ट से प्रतिदिन 2000 से 2200 यात्री आते-जाते हैं। इस एयरपोर्ट से नॉर्थ बिहार के 18 जिलों और नेपाल के यात्रियों को भी सुविधा हुई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.