गर्व! बिहार की बेटी माउंट एवरेस्ट पर फहराया तिरंगा – महज 13 दिनों में नाप दी 18 हजार फीट की ऊंचाई..

डेस्क : बिहार के जमुई की बेटी अनिशा दुबे ने 22 वर्ष की उम्र में हिमालय के 18 हजार फ़ीट की उंचाई पर चढ़ाई कर तिरंगा लहराया। इसके साथ ये दिखा दिया कि आर्थिक विपन्नता और सीमित संसाधन भी सपनों का पंख नहीं कुतर सकते। कठिन से कठिन चुनौती दृढ़ संकल्प और जज्बे के सामने घुटने टेक ही देती है।

नगर क्षेत्र के बिहारी मोहल्ला की बेटी अनिशा दुबे ने बताया कि 28 सितंबर को सुबह 10 बजे माउंट एवरेस्ट के 18 हजार फीट ऊंचाई पर बेसिक कैंप पर अपना तिरंगा लहरा एवं राष्ट्रीय गान गाकर अपने मिशन फतह किया। उन्होंने कहा कि बचपन में देखा सपना आज पूरा हुआ। इस टीम में मेरे साथ नालंदा जिला से गोपाल कुमार और प्रिया रानी, मध्य प्रदेश से अंजना यादव और अमित विश्वकर्मा सहित कुल 5 पर्वतारोही शामिल थे।

अगला लक्ष्य अफ्रीका का माउंटेन किलिमंजारो : पर्वतारोही अनीशा दुबे ने बताया कि हमारी टीम का अगला टारगेट माउंटेन किलिमंजारो है जो कि अफ्रीका में है। इसकी ऊंचाई लगभग 19 हजार फीट की है। इसके लिए हमें मानसिक और शारीरिक दोनों रूप से तैयार होना होगा। हमलोग माउंट किलिमंजारो पर भी भारत का तिरंगा लहराएंगे।

अनिशा दुबे ने बताया कि बचपन से पर्वतारोहण का प्रेरणा मुझे पर्वतारोही अरुणिमा सिन्हा से मिली। पर्वतारोही अरुणिमा सिन्हा जिनका एक हादसे में एक पैर नही रह था। एक पैर न होने के बावजूद उन्होंने माउंट एवरेस्ट को फतह किया। बिना ट्रेनिंग लिए ही पर्वतारोही के सफर में पहला सफल प्रयास हिमाचल प्रदेश के माउंटेन पतालसू की लगभग 14 हजार फीट ऊंचाई पर चढ़ना है। 24 घंटे में हमलोगों ने उस चोटी पर तिरंगा लहराया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *