Bihar का पहला ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे 20 महीनों में बनकर होगा तैयार, जानें – क्या होगा रूट..

डेस्क : यूपी में इंफ्रास्ट्रक्चर (Infrastructure) को मजबूत करने के लिए सड़कों और एक्सप्रेस-वे का खूब जाल बिछाया जा रहा है। इसी के तहत उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती जिले गाजीपुर से बलिया तक ग्रीन फील्ड एक्सप्रेसवे (Greenfield Expressway) की सौगात प्रदेश को मिली है। बलिया से लखनऊ, दिल्ली और बिहार तक कनेक्टिविटी को मजबूत करने के लिए ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे परियोजना में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) ने एक ग्लोबल टेंडर जारी किया है। इस एक्सप्रेस-वे के जरिए उत्तर प्रदेश की बिहार से कनेक्टिविटी और भी बेहतर हो जाएगी। साथ ही रोजगार के नए अवसर भी प्राप्त होंगे।

134.39 किलोमीटर लंबी ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे परियोजना 4 फेज में बनेगी और इसके लिए अलग-अलग निर्माण एजेंसी भी इसमें शामिल होंगी। चारों फेज के काम में 2726.27 करोड़ रुपये की लागत आएगी इसके निर्माण कार्य के लिए समय भी निर्धारित कर दिया गया है। परियोजना को पूरा करने के लिए 15 से 20 महीने की समय सीमा भी रखी गई है। 31 अगस्त तक कंपनी की चयन प्रक्रिया भी पूरी कर ली जाएगी। एक्सप्रेस-वे की चौड़ाई 60 मीटर तक होगी।

ग्रीनफील्ड एक्सप्रेस-वे निर्माण का प्रथम फेज गाजीपुर के हृदयपुर से शाहपुर तक होगा। इस एक्सप्रेस-वे को गाजीपुर के उत्तरपुर गांव में पूर्वांचल एक्सप्रेस वे से भी जोड़ा जाना हैं। इसके लिए डबल ट्रंप भी बनाएंगे। जिससे यहाँ पर वाहन चढ़ेंगे और उतारे जाएंगे। यह बलिया शहर से करीब 34 किलोमीटर की दूरी पर होगा है।

जानकारी के अनुसार शासन ने भूमि अधिग्रहण के लिए E-टेंडर भी जारी कर दिया है। बलिया जिले के 36 गांवों की मुआवजा दरें भी तय हो गई हैं। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय नितिन गडकरी ने एक्सप्रेसवे की डिजाइन को स्वीकृति भी दे दी है। चितबड़ागांव में टोंस नदी पर एक पुल भी बनना हैं। जिसके लिए करीब 500 करोड़ रुपये आवंटित हो चुके हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *