बिहार के IGIMS में टीका करण शुरू, पहला लगा सफ़ाई कर्मचारी को तो दूसरा ड्राइवर को

ram babu get first shot of corona vaccine

ram babu get first shot of corona vaccine

डेस्क : बिहार में इस वक्त कोरोना का टीका करण चरणबद्ध तरीके से शुरू कर दिया गया है, जैसा कि सरकार शुरू से ही कहती आई है कि सबसे पहले कोविड-19 की वैक्सीन को निचले स्तर के कार्यकर्ताओं को दिया जाएगा। इस कार्य में सभी फ्रंटलाइन वर्कर मौजूद है सभी सफाई कर्मचारियों से लेकर ड्राइवर एवं अन्य स्टाफ को यह वैक्सीन दी जाएगी।

ऐसे में बिहार के आईजीआईएमएस में यह कार्य शुरू हो गया है हालांकि इसके निर्धारित समय 11:00 बजे था लेकिन 11:30 बजे तक इस काम को शुरू कर दिया गया और सबसे पहले टीका राम बाबू नाम के सफाई कर्मचारी को लगाया गया है उसके बाद मुख्यमंत्री की मौजूदगी में टीकाकरण को शुरू कर दिया गया रामबाबू के बाद सीधा एंबुलेंस चालक अमित कुमार को टीका लगाया गया है।

इस दिन का सबको बेसब्री से इंतजार था। भारत का हर नागरिक बस यही चर्चा करता नजर आ रहा था की कब यह दवा आएगी और कब हमें कोरोना से निजात मिलेगा, 16 जनवरी एक ऐसा दिन है जहां पर हमें अनेकों केंद्रों में टीकाकरण होता हुआ नजर आ रहा है। ऐसे ही टीका संतोष झा नाम के व्यक्ति को लगाया गया और जब उससे बातचीत की गई तो उसने कहा कि आज बहुत ही खुशी का दिन है। देशवासियों को इस उत्सव में शामिल होना चाहिए और अनेकों लोगों को इस अभियान का सहयोगी बनना चाहिए।

कई जिलों के डीएम ने केंद्रों का उद्घाटन फीता काटकर किया। इसका सीधा उदाहरण हमें 11:00 बजे जिला निबंधन परामर्श केंद्र के डीएम सौरभ जयसवाल है। जानकारी के लिए बता दें कि जिन लोगों को आज टीका लग रहा है उन्हीं लोगों को 28 दिनों के बाद टीका लगाना अनिवार्य होगा क्योंकि मात्र एक डोज़ से काम नहीं चलेगा इसके लिए दो डोज़ अनिवार्य है। आज के दिन से टीकाकरण शुरू हो गया है और जिले में मौजूद 600 लोगों को रोजाना टीका लगाया जाएगा।

आपको बता दें कि बाहरी देश से यह खबर आ रही है कि कोरोना का टीका लगाने के बाद कई लोगों की तबीयत खराब हो रही है और कुछ लोगों की जान भी चली गई है। ऐसे में यह वैक्सीन कितनी कारगर हो सकती है इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है। हम यह जरूर कह सकते हैं कि यह सभी दवाइयां मात्र प्रयोग के लिए इंसानों को दी जा रही हैं। ऐसे में सरकार ने सिरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक को यह साफ चेतावनी के तौर पर आगाह किया हुआ है कि अगर किसी को वैक्सीनेशन के बाद परेशानी होती है तो उसकी पूरी जिम्मेदारी यह दोनों संस्थाएं उठाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

UPSC टॉपर शुभम की कहानी, 6 साल की उम्र में घर छोड़ा, 12वीं में देखा था IAS बनने का सपना मिलिए जागृति से,जानिए कैसे बनीं वो UPSC के महिला वर्ग में देशभर की टॉपर Divya Aggarwal ने जीता BigBossOTT-जानें ट्रॉफी के साथ कितना मिला कैश ? Jio अब बजट रेंज में लॉन्च करेगा लैपटॉप, ये होंगे कीमत और Features Airtel vs Vi vs Jio : जानें 600 रुपये से कम वाला किसका रिचार्ज प्‍लान सबसे बेस्‍ट