सावधान! ऑक्सीजन लेवल चेक करने के इस फर्जी तरीके से बचे, डॉक्टरों ने चेताया

oxygen level internet viral method

डेस्क : इस वक्त देश में बहुत बुरे हालात हो चुके हैं एक तरफ अस्पतालों में बेड की कमी है तो दूसरी और उनको ऑक्सीजन नहीं मिल रहा है। ज्यादातर बीमारियों का इलाज लोग इंटरनेट पर ढूंढते दिख रहे हैं, ऐसे में इस वक्त देश की सबसे बड़ी महामारी कोरोना का इलाज भी लोग इंटरनेट पर ढूंढ रहे हैं, जो बिल्कुल भी सही तरीका नहीं है। इस वक्त इंटरनेट पर एक तरीका वायरल हो रहा है जिसमें बताया जा रहा है कि अगर आप इस टेस्ट में पास हो जाते हैं तो आपको ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है।

ज्यादा जानकारी के लिए आपको बता दें कि इसमें ए और बी नाम के दो पॉइंट दिए गए हैं। इस तरीके में दावा किया जा रहा है कि अगर आप अपनी सांस को A पॉइंट से लेकर B पॉइंट तक रोक के रखेंगे तो आपको किसी भी प्रकार की ऑक्सीजन की कमी नहीं है। यह तरीका ऑक्सीजन लेवल चेक करने का तरीका बताया जा रहा है जब डॉक्टर और विशेषज्ञ से पूछा गया कि क्या यह तरीका कारगर है तो उन्होंने साफ कहा है कि इस तरह का कोई भी तरीका कारगर नहीं है, इसको बिल्कुल भी ट्राई नहीं करें यह एकदम गलत तरीका है। दूसरी तरफ एक और तरीका वायरल हो रहा है, जिसमें अगर ऑक्सीजन सिलेंडर की कमी हो जाती है तो नेबुलाइजर की मदद से ऑक्सीजन दी जा रही है।

इस तरीके को डॉक्टर आलोक सेठी ने वीडियो के जरिए दिखाने की कोशिश की है। यह वीडियो लोगों के बीच खूब ज्यादा वायरल हो रहा है, डॉक्टरों का कहना है कि इस वीडियो के माध्यम से सिर्फ सलाह दी गई है कि ऑक्सीजन सिलेंडर को किस तरह से इस्तेमाल किया जाता है। जब इस बात पर सर्वोदय अस्पताल के प्रशासन से पूछताछ की गई तो उन्होंने अपने आप को इस मामले से दरकिनार कर लिया। इसके बाद जब यह खबर आग की तरह फैलने लगी तो डॉक्टर आलोक सेठी ने एक और वीडियो जारी किया, जिसमें उन्होंने कहा कि नेबुलाइजर ऑक्सीजन सिलेंडर का विकल्प नहीं हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *