कांग्रेस 1 सितंबर से करेगी चुनावी आगाज, बिहार क्रांति महासम्मेलन की पूरी तैयारी, लेकिन राहुल गांधी…

कांग्रेस-1-सितंबर-से-करेगी-चुनावी-आगाज

डेस्क : बिहार विधानसभा के मद्देनज़र कांग्रेस अपना चुनावी आगाज़ आगामी 1 सितम्बर से करने करने जा रही है। बिहार क्रांति महासम्मेलन के जरिए इस आगाज की तैयारी पूरी हो चुकी है। सदाकत आश्रम में महासम्मेलन को लेकर बड़ा प्लेटफार्म तैयार किया गया है। इस महासम्मेलन के अंदर पार्टी 100 छोटे सम्मेलन करने जा रही है, जिसमें दिल्ली से लेकर राज्य स्तर और विधानसभा स्तर के नेता शामिल होंगे।

बिहार कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा (Madan Mohan Jha) ने कहा है कि अभी राहुल गांधी (Rahul Gandhi) सम्मेलन का हिस्सा नहीं होंगे। उनके लिए अलग से रैली की जाएगी।बिहार कांग्रेस के चुनावी अखाड़े में कूदने जा रही है।पार्टी का पहला विधानसभास्तर का सम्मेलन शुरू होने जा रहा है। महासम्मेलन के पहले दिन नरकटियागंज और बेतिया में वर्चुअल सम्मेलन पार्टी करेगी। वर्चुअल सम्मेलन में दिल्ली से प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, अजय कपूर, वीरेन्द्र राठौड़ शामिल होंगे।

वहीं, पटना सदाकत आश्रम से अध्यक्ष मदन मोहन झा, सीएलपी लीडर सदानंद सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष श्याम सुंदर सिंह धीरज, समीर सिंह शामिल होंगे। विधानसभास्तर पर पांच हजार लोगों को वर्चुअली सम्मेलन से जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है।अध्यक्ष मदन मोहन झा ने कहा है कि पहले चरण में 15 तारीख तक लगातार दो विधानसभा क्षेत्रों में सम्मेलन होगा। होने वाले सम्मेलन की संख्या रूरत के अनुसार बढ़ा भी सकते हैं।जरूरत पड़ी तो सहयोगी दलों के क्षेत्र में भी सम्मेलन करेंगे। कल के सम्मेलन में राहुल गांधी नहीं शामिल हो रहे हैं। राहुल गांधी के लिए अलग से रैली की जाएगी जिसमें तीन से चार लाख लोग जुड़ेंगे।

इधर, पार्टी के महासम्मेलन से पार्टी के विधायक भी उत्साहित हैं। पार्टी के विधायक बंटी चौधरी कहते हैं कि हमलोग नहीं चाहते थे कि कोरोना काल में अभी चुनाव हो, लेकिन जब चुनाव आयोग ने फैसला ले ही लिया है तो हम भी तैयार हैं। वर्चुअल सम्मेलन के जरिए लोगों से संपर्क करेंगे और लोगों को केन्द्र राज्य सरकार की खामियों को बताएंगे।

पार्टी के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने कहा है कि कल तक जिस राजीव गांधी के योगदान का बीजेपी विरोध करती थी। आज उसी योगदान को बीजेपी ने भी चुनाव का सहारा बनाया है। कंप्यूटर क्रांति देश में लाने वाले राजीव गांधी ही हैं और आज उन्हीं की देन है कि बिहार वर्चुअल चुनाव प्रचार की ओर है। वर्चुअल सम्मेलन के जरिए हमारे नेता पार्टी के कार्यकर्ताओं को चुनाव की तैयारी के लिए सुझाव देंगे जो कारगार साबित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *