बिहार : अब सभी गांवों में लग रही है अनोखी सोलर लाइट – बुझते ही कंट्रोल रूम को मिलेगी सूचना..

डेस्क : बिहार के गांवों में सोलर लाइट लगाने की योजना नयी नहीं है, लेकिन इस बार इसका तरीका नया जरूर है। पिछली बार जब गांवों में सोलर लाइट लगाई गयी थी, तो उसमें बड़े पैमाने पर गड़बड़ी भी सामने आई। मुखिया ने अपने घर और चहेतों के घरों में सोलर लाइटें लगवा दीं। कई जगह ऐसी घटिया सोलर लाइट भी लगी कि वह 10 दिन भी नहीं टिकसकी। इस बार ऐसा नहीं होने वाला।

बैट्री चुराने वाले अब तुरंत पकड़े जाएंगे : गांव-गांव में लगने वाले सोलर स्ट्रीट लाइट को लेकर तकनीकी व्यवस्था यह की गयी है कि सोलर लाइट की बैट्री अगर चोरी भी हो गयी तो उसका इस्तेमाल दोबारा संभव नहीं हो सकेगा। चोरी की गयी बैट्री अगर दूसरे जगह लगती है तो तुरंत ही नियंत्रण कक्ष को लोकेशन के साथ यह मैसेज भी आएगा कि उसे कहां लगाया गया है।

बैट्री खोलना इस बार आसान नहीं होगा : अधिकारियों ने बताया कि आम तौर पर सोलर लाइट के बारे में यह शिकायत रहती ही है कि बैट्री या फिर पैनल ही खोल लिए जाते हैं। ग्रामीण सोलर लाइट में तकनीकी व्यवस्था यह की गयी है कि इसके बैट्री को लाइट के होल्डर के समीप भीतर ही लगा दिया गया है। इसलिए बैट्री खोलने के लिए अब पूरे सिस्टम को खोलना होगा। अब नए तकनीकी में हर बैट्री पर 3 डिजिट का यूनिक आईडी लगाया गया है। इस यूनिक आईडी के माध्यम से ही मुख्यालय स्थित नियंत्रण कक्ष को यह पता चलता है जिस बैट्री से सोलर लाइट जल रही है वह किस जिले, पंचायत व गांव में कहां लगाई गई है। इसलिए उसे खोलकर जहां भी लगाया जाएगा उसकी सूचना नियंत्रण कक्ष को मिल ही जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *