बिहार की बेटियां ले रही है कम उम्र में फेरे, कोसी और सीमांचल में सबसे ज्यादा बालिका वधु

डेस्क : भारत में सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जैसे कई स्कीमें चला रही है जिसके तहत भारत की बेटियां ऊपर उठकर बड़ा नाम कर सके लेकिन भारत में कुछ राज्य ऐसे हैं जहां पर इन बेटियों के मां-बाप इनको शादी कर विदा कर देने में ही भलाई समझते हैं। ऐसे में सरकार की ओर से लगातार यह प्रयास चल रहा है कि बेटी आत्मनिर्भर बने और उनको अपने जीवन साथी चुनने का अधिकार हो, इसके लिए प्रशासनिक स्तर पर भी अनेकों जागरूकता अभियान चलाए जा रहे हैं।

बात करें बिहार की तो पूर्वी बिहार एवं भागलपुर के कई सटे जिलों में बेटियों के बालिग होने से पहले ही शादी कर दी जा रही है जिसके चलते उनका विकास नहीं हो पा रहा है और जब एक नारी का विकास नहीं होगा तो राज्य का विकास भी नहीं होगा यह एक चिंता का विषय है हालांकि बिहार के भागलपुर में 42% ऐसी बेटियां हैं जिनकी कम उम्र में शादी कर दी जा रही है। पिछले कई वर्षों में लड़कियों की शादी की बातें खूब बढ़ चढ़कर सामने आई हैं। करीब 2015-16 में यह आंकड़ा 29.7% था।

इससे साफ़ यह पता चलता है की मात्र 4 साल के भीतर काफी बड़े स्तर पर लड़कियों की शादी हो रही है। अगर बात करें बांका, कटिहार, पूर्णिया जिले की तो वहां पर करीब 50% से ऊपर ऐसी लड़कियां हैं, जिनकी शादी 18 साल से कम उम्र में की जा रही है बांका जिले में यह आंकड़ा 49% को छूता है किशनगंज का आंकड़ा 36%, मुंगेर में 34% एवं कई ऐसे जिले हैं जहां पर 51% बेटियों की शादी दर्ज की गई है।

सारे आंकड़े NHFS-5 के जरिये ही सामने आए हैं। इसे साफ पता चलता है कि बिहार के लोगों में अभी तक मानसिक बदलाव नहीं आया है। महिला रोग विशेषज्ञ डॉक्टर शर्मिला देवी का कहना है कि अगर इसी तरीके से कम उम्र में शादी का प्रचलन बढ़ता रहेगा तो मानसिक विकास में परेशानी आएगी और अचानक से मां बनने वाली लड़कियों की जान को खतरा रहेगा और उनके शिशु मृत्यु दर भी बढ़ जाएगी।

जिससे बड़े पैमाने पर देश की वृद्धि भी रुक जाती है ऐसे में कई बार देखा गया है कि कम उम्र की महिलाएं गर्भावस्था के दौरान रूटीन चेकअप करवाने आते हैं। उनकी उम्र काफी कच्ची होती है और मन में डर बना रहता है। इसका जीता जागता उदाहरण हमें बिहार में होने वाले इंटर की परीक्षाओं में देखने को मिल रहा है जहां पर कई छात्राएं गर्भवती हैं और वह अपना परीक्षाएं दे रही हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.