BJP नेता शाहनवाज हुसैन बुरे फंसे – दिल्ली हाईकोर्ट ने रेप केस दर्ज करने का दिया आदेश..

डेस्क : बिहार के मंत्रियों की मुश्किलें कम होने का नाम ही नही ले रही हैं। बिहार की नई सरकार के नए कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह विवादों से घिर गए हैं वही दूसरी तरफ भाजपा नेता और पूर्व उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन भी अब गम्भीर आरोपों के फंदे में हैं। मिस्टर क्लीन की छवि रखने वाले शाहनवाज हुसैन की मुश्किलें अब बढ़ते दिख रही हैं।

दिल्‍ली की महिला ने लगाया था रेप का आरोप : भाजपा नेता व बिहार के पूर्व उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन पर दिल्‍ली की एक महिला ने दुष्‍कर्म का गम्भीर आरोप लगाया था। घटना करीब चार वर्ष पुरानी है। महिला ने यह आरोप लगाया कि 12 अप्रैल 2018 को छतरपुर के एक फार्म हाउस में उसे नशीला पदार्थ खिलाकर उसके साथ दुष्‍कर्म किया गया। हाईकोर्ट की जस्टिस आशा मेनन की पीठ ने इस मामले में कार्यवाही का आदेश भी दिया है। बताया जाता है कि दिल्‍ली की साकेत कोर्ट ने 7 जुलाई 2018 को इस मामले में दुष्‍कर्म की प्राथमिकी का भी आदेश दिया था।

प्राथमिकी के आदेश पर लगी थी अं‍तरिम रोक : इसके बाद शाहनवाज हुसैन ने दिल्‍ली हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की। तब फिर 13 जुलाई 2018 को प्राथमिकी के आदेश पर अंतरिम रोक लगा दी गई थी। शाहनवाज हुसैन की दलील थी कि दिल्‍ली पुलिस की जांच में आरोप निराधार पाए गए थे। लेकिन अब जस्टिस आशा मेनन की पीठ ने FIR का आदेश दे दिया है। पुलिस के इस रवैये पर भी सवाल खड़े किए हैं। कोर्ट ने आदेश दिया है कि तत्‍काल FIR कर तीन महीने के अंदर इसकी रिपोर्ट MM (Metropolitan Magistrate) के समक्ष दाखिल की जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *