बिहार का दूसरा सबसे बड़ा AIIMS बनने का रास्ता साफ, DMCH ने दी 81.09 एकड़ ज़मीन..

डेस्क : बिहार में दूसरे AIIMS अस्पताल के निर्माण को लेकर हलचल अब तेज हो गयी है. बीते 15 अगस्त को दरभंगा Aiims (Darbhanga AIIMS) के पहले डाइरेक्टर के पदभार ग्रहण करने के बाद कयास लगाया जा रहा है कि अब इसके निर्माण कार्य में भी तेजी आएगी. केंद्रीय वित्त मंत्री के द्वारा वित्तीय वर्ष 2015-16 के बजट भाषण में दरभंगा AIIMS की घोषणा की गई थी, लेकिन इसमें जमीन अधिग्रहण को लेकर लगातार ढेर सारी समस्या आ रही थी. पहले दरभंगा मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल (DMCH) की जमीन में से 200 एकड़ देना था, लेकिन फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के द्वारा 200 एकड़ जमीन में से 55 एकड़ दरभंगा मेडिकल कॉलेज DMCH को वापस करने की बात कही गयी.

मंगलवार को जिलाधिकारी (DM) राजीव रौशन की मौजूदगी में DMCH के प्राचार्य (प्रिंसिपल) कृपानाथ मिश्र और अधीक्षक हरिशंकर मिश्रा के द्वारा भारतीय गैर न्यायिक स्टाम्प पत्र पर हस्ताक्षर कर AIIMSके कार्यपालक निदेशक डॉ. मधवानंद कर को पहले चरण की 81.09 एकड़ जमीन का हस्तान्तरण किया गया.

AIIMS की ओर से डॉ. माधवानन्द कर ने स्टाम्प पेपर पर दस्तखत कर इसे ग्रहण किया. Aiims के भवन निर्माण कार्य प्रारंभ करने के लिए विधिवत भूमि हस्तान्तरण की मांग AIIMS के कार्यपालक निदेशक के द्वारा की जा रही थी. पहले चरण की भूमि विधिवत स्टाम्प पेपर पर हस्तान्तरित हो जाने के बाद अब AIIMS के लिए भवन, चारदीवारी और अन्य निर्माण कार्य के लिए रास्ता साफ हो गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *