बाढ़ के चलते 11 जिलों में हालात गंभीर,नदियां खतरे के निशान से ऊपर -अगले 4 दिन तक भारी बारिश की आशंका

bihar drought

डेस्क : बिहार में इस वक्त बारिश का माहौल बना हुआ है, दूसरी तरफ नेपाल ने भी अपना पानी छोड़ दिया है। ऐसे में बिहार के कई इलाकों में बाढ़ की स्थिति बन गई है, इस वजह से आने वाले समय में जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो सकता है। कई गांव में पानी अंदर तक घुस गया है जिसके कारण लोगों के घर पानी से भर गए हैं। घरों में पानी के भर जाने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बता दें कि बिहार के खास जिले जैसे चंपारण, खगड़िया, समस्तीपुर, मुजफ्फरपुर और सीतामढ़ी जैसे कई जिले बाढ़ से ग्रस्त हो चुके हैं। बिहार में रह रहे लोग बाढ़ के डर से ऊंचाई वाले क्षेत्र में चले गए हैं। बता दें कि हाल ही में दरभंगा की एक स्वास्थ्य विभाग की बिल्डिंग पानी भरने के कारण ढह गई। इस वक्त कोसी और गंदक नदी का जलस्तर काफी बढ़ गया है। सुगौली और मोतिहारी में बाढ़ का कहर जारी है, हाल ही में आई तेज बारिश की वजह से मधुबनी की कमला बलान नदी में जलस्तर बढ़ गया है। लोगों के ऊंचे मकानों में भी पानी आ गया है।

इतना ही नहीं कई इलाकों में बांध टूटने की वजह से बड़ी मात्रा में पानी भीतर आ गया है। फिलहाल एसडीआरएफ की टीम जगह-जगह आ पहुंची है और रेस्क्यू का काम चल रहा है। वहीं मौसम विभाग का कहना है कि आने वाले 2 से 3 दिन तक लगातार बारिश हो सकती है। वैज्ञानिकों ने पाया है कि बिहार से इस वक्त ट्रफ लाइन होकर गुजर रही है, जहां पर कम दबाव वाला क्षेत्र तैयार हो गया है। कम दबाव के कारण बादल बन गए हैं जो बार बार बारिश ला रहे हैं।

उत्तर और दक्षिण बिहार में भारी बारिश होने की आशंका जताई जा रही है वहीं मध्य बिहार में ठनका गिरने की आशंका बनी हुई है। ऐसे में बिहार के कई जिलों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। बिहार के लिए आने वाले कुछ दिन मौसम के लिहाज से बेहद महत्वपूर्ण है। बिहार में 422 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है मौसम वैज्ञानिकों का कहना है कि यह अब तक की सबसे लंबे बारिश है जो 100% पार हो गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *