पूरे भारत में गूंजेगा बिहार का डंका! बनने जा रही हैं 3 नई यूनिवर्सिटी जहाँ होगी इंजीनियरिंग, मेडिकल और स्पोर्ट्स की पढाई

डेस्क : बिहार विधानमंडल में 26 जुलाई को मानसून सत्र शुरू किया जाएगा। इस सत्र में राज्य के लिए डेढ़ दर्जन से भी ज्यादा विधेयकों की चर्चा की जाएगी बता दें कि इन विधेयकों के माध्यम से बिहार को एक नया मेडिकल विश्वविद्यालय, खेल विश्वविद्यालय और इंजीनियरिंग विश्वविद्यालय मिलेगा। जल्द ही मानसून सत्र की शुरुआत हो जाएगी और इन विधेयकों को पास करके राज्यपाल द्वारा सहमति मिल जाएगी और विधेयक पारित होकर अधिनियम बन जाएंगे।

इस वक्त राज्य के सभी मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेज आर्यभट्ट ज्ञान विश्वविद्यालय के अंतर्गत आते हैं, ऐसे में यदि और मेडिकल कॉलेज और विश्वविद्यालय खोलते हैं तो सभी लोगों को ज्यादा गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिल सकेगी, दूसरी ओर खेल के विकास का भी ध्यान राज्य सरकार रख रही है. जिसके चलते अब खेल विश्वविद्यालय भी तैयार किया जा रहा है। खेल विश्वविद्यालय को राजगीर के समीप तैयार किया जाएगा। वहीं अभियांत्रिकी विश्वविद्यालय में आईआईटी पटना, एनआईटी पटना और चंद्रगुप्त प्रबंधन संस्थान की मदद ली जा रही है। सभी कॉलेजों के पाठ्यक्रम को विकसित करने के लिए निर्णय तैयार किए जा रहे हैं बता दें कि यह विश्वविद्यालय मुख्यमंत्री के साथ निश्चय पार्ट-2 योजना के भीतर आती है।

हिंदी विश्वविद्यालयों में वाइस-चांसलर की नियुक्ति राज्य सरकार द्वारा की जाएगी। वाइस चांसलर के अलावा जितने भी पद पर अधिकारियों की आवश्यकता है वह सरकार कमेटी गठित करके पूरा करेगी, जिसमें 3 सदस्य शामिल होंगे। इन तीनों विश्वविद्यालयों के चांसलर मुख्यमंत्री होंगे और विश्वविद्यालयों के वाइस चांसलर राज्यपाल होंगे। ऐसे में यह लोग मिलकर अन्य पदों पर नियुक्ति करेंगे। फिलहाल 4668 शिक्षकों की नियुक्ति चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.