कोसी से पटना के बीच ले सकेंगे शानदार सफर का मजा, नितीश सरकार की इस योजना से होगा फायदा

डेस्क : राज्य सरकार का मुख्य उद्देश्य होता है राज्य का विकास, ऐसे में बिहार की सरकार में हमें इस उद्देश्य की पूर्ति इस बार होती दिख रही है। बता दें की नितीश सरकार का इस बार पूरा ध्यान बिहार की सड़क व्यवस्था को मजबूत करने में लगा है। किसी भी राज्य का विकास देखना हो तो सबसे पहले नजरें वहां की सड़कों पर फेर लेनी चाहिए। ऐसे में सड़कों की हालत में बदलाव लाने के लिए सरकार कड़े प्रयास करती नजर आ रही है।

बिहार में मौजूदा सुपौल, पूर्णिया, मधेपुरा, कटिहार, अररिया, किशनगंज और सहरसा के जिलों में रह रहे लोगों के लिए एक अच्छी खबर है इन सभी 7 जिलों में रह रहे लोगों के लिए नया एक्सप्रेसवे तैयार होने जा रहा है। ऐसे में सरकार इसमें एक्सप्रेस वे की प्लानिंग में लगी हुई है। फिलहाल पथ निर्माण विभाग और केंद्र सरकार इस नए हाईवे पर विचार मात्र कर रहे हैं। यह एक्सप्रेसवे पूर्णिया प्रमंडल और कोसी को जोड़ेगा। ऐसे में यह सीधा पटना से जुड़ता हुआ एक नया फोरलेन सड़क तैयार करेगा। सड़क जब शुरू होगी तो वह वैशाली से शुरू होकर पूर्णिया में खत्म होगी।

सड़क का निर्माण कार्य NHAI द्वारा करवाया जा रहा है। इस प्रोजेक्ट को ड्रीम प्रोजेक्ट कहा जा रहा है जिसके लिए जमीन अधिग्रहण का कार्य भी हो रहा है। विभाग का कहना है की इस निर्माण कार्य के बाद से लोगो को पटना आने जाने में काफी समय बचेगा। जब निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा तो 7 जिले के लोगो को इसका लाभ मिलेगा जिसमें कटिहार, मधेपुरा, पूर्णिया, अररिया, किशन गंज, सुपौल और सहरसा शामिल हैं। बाढ़ के बुरे हालातों से निपटने के लिए यह एक बेहतरीन विकल्प साबित हो सकता है। हाल ही में नीतीश सरकार द्वारा घोषणा की गई थी की बिहार की राजधानी पटना में हर जिले से सड़कें होती हुई गुजरेगी और जो बनी हुई सड़कें हैं, उनको चौड़ा किया जाएगा ताकि निजी वाहनों के साथ मालवाहक वाहन भी आना-जाना कर सकें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.