BSEB परीक्षा व्यवस्था में सुधार का दे सुझाव – मिलेंगे 1 लाख का इनाम, जानें – कैसे?

डेस्क : बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (‍BSEB) परीक्षा व्यवस्था को और भी अधिक उत्कृष्ट बनाने के लिए फेज-3 रिफॉर्म्स लागू करने जा रही हैं. इसके लिए समिति से संबद्ध शिक्षण संस्थानों के प्रधान, शिक्षक और विद्यार्थियों के साथ ही सभी जिलों के DEO से सुझाव मांगा गया है. इस समिति ने वाट्सएप नंबर व ई-मेल के साथ ही वेबसाइट पर ऑनलाइन सुझाव भेजने का विकल्प दे दिया है. 26 अगस्त तक संबंधित व्यक्ति अपना सुझाव प्रस्ताव भेज सकते हैं.

20 उत्कृष्ट सुझावों का चयन करके पुरस्कार व प्रशस्ति पत्र दिया जाना है. इसमें प्रथम चयनित सुझाव को एक लाख रुपये का पुरस्कार दिया जायेगा. वहीं, द्वितीय चयनित सुखाव पुरस्कार 75 हजार रुपये व तृतीय चयनित सुझाव को पुरस्कार के रूप में 50 हजार रुपये का मिलेगा. सांत्वना पुरस्कार के लिए 15 हजार रुपये तक कि राशि दिये जायेंगे, जिसके लिए 4 से 10वें स्थान तक के व्यक्ति पात्र होंगे. वहीं 11वें से 20वें स्थान तक के सुझाव को केवल प्रशस्ति पत्र दिया जायेगा.

4 साल में हुआ बड़ा बदलाव : परीक्षा समिति की परीक्षा व्यवस्था में पिछले 4 साल में बड़ा बदलाव हुआ है. पूरी व्यवस्था में नये प्रयोगों व आधुनिक तकनीक के माध्यम से परीक्षाओं में सुधार किया गया है. इसके चलते 12 व 10 की वार्षिक परीक्षाओं का परिणाम रिकॉर्ड टाइम में देश में सबसे पहले जारी किया जा रहा है. समिति की राष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनने के साथ ही इससे हर साल लाखों विद्यार्थी लाभान्वित भी होते हैं.

नाम-पते के साथ भेजें अपने सुझाव : समिति की ओर से यह कहा गया है कि DEO, विद्यालय प्रधान, शिक्षक या छात्र अपने नाम-पते के साथ सुझाव प्रस्ताव भेजें. अपने बारे में पूरी जानकारी के साथ ही एक फोटो व पता वाले पहचान पत्र की स्व-हस्ताक्षरित स्कैन कॉपी भी देनी जरूरी है. उस पर अपना मोबाइल नंबर भी अंकित करने को कहा गया है.

सुझाव भेजने का माध्यम

DEO, प्रिंसिपल व टीचर्स के लिए–

Whatsapp: 8102926635

E-mail: [email protected]

Website: biharboardonline.bihar.gov.in पर उपलब्ध लिंक ‘suggestion for BSEB Phase-3 Reforms’

विद्यार्थियों के लिए–

Whatsapp: 8102926664

E-MAIL: [email protected]

WEBSITE: biharboardonline.bihar.gov.in पर उपलब्ध लिंक ‘विद्यार्थियों द्वारा BSEB Phase-3 Reforms के संबंध में सुझाव प्रस्ताव’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *