सोने की कीमत 53,000 रुपये के करीब, अभी बेचें या खरीदें

5
Gold Price Today

जून 2022 के वायदा अनुबंध के लिए सोने की कीमतें बढ़कर रु। 53,000 प्रति 10 ग्राम। हालांकि, वह 53,000 रुपये के मनोवैज्ञानिक स्तर से ऊपर रहने में नाकाम रहे। शुक्रवार को सोना 1970 डॉलर प्रति औंस पर बंद हुआ था।

जिंस बाजार के जानकारों के मुताबिक अमेरिकी महंगाई, रूस-यूक्रेन संकट के जल्द खत्म न होने जैसे विभिन्न कारणों से हाजिर बाजार में सोने की कीमत निकट भविष्य में 2020 डॉलर प्रति औंस तक जा सकती है। उन्होंने कहा कि घरेलू बाजार में एमसीएक्स सोने की कीमत जल्द ही 53,500 रुपये से 53,800 रुपये प्रति 10 ग्राम तक पहुंच सकती है। विशेषज्ञों का कहना है कि रूस-यूक्रेन संघर्ष लगातार दूसरे सप्ताह सोने की कीमतों में तेजी के कारणों में से एक था। दोनों देशों के बीच शांति के प्रयास विफल हो रहे हैं। साथ ही महंगाई बढ़ने की खबरों का असर बाजार के सेंटिमेंट पर पड़ रहा है।

उन्होंने कहा कि अमेरिकी वार्षिक सीपीआई मार्च में बढ़कर 8.5 प्रतिशत हो गया, उजो 40 साल का रिकॉर्ड है। पीपीआई द्वारा मापी गई थोक कीमत 11.2 फीसदी सालाना पर पहुंच गई है। ब्रिटेन के मार्च महीने के महंगाई के आंकड़े दुनिया में सबसे ज्यादा महंगाई दिखाते हैं। इससे सोना खरीदने में दिलचस्पी बढ़ी है क्योंकि निवेशक कठिन संपत्तियों के माध्यम से मुद्रास्फीति के खिलाफ बचाव करना चाहते हैं।