बिहार के नियोजित शिक्षकों के लिए खुशखबरी: अप्रैल माह से 15 प्रतिशत तक बढ़ेगा वेतन, शुरू हुई पहल

बिहार सरकार के शिक्षा विभाग द्वारा एक बार फिर नियोजित शिक्षकों के लिए तोहफा पेश किया है। अब सुबे के करीब चार लाख से अधिक नियोजित शिक्षकों का अप्रैल माह से ही 15% तक वेतन में इजाफा मिलेगा। वैसे माध्यमिक शिक्षा निदेशक के निर्देशक दयाल सिंह के द्वारा सभी जिला पदाधिकारियों को पत्र लिखकर यह सूचित कर दिया गया है। कि हाई स्कूल इंटर और पुस्तकालय के शिक्षकों का अप्रैल माह से ही वेतन भेजने कवायद शुरू किया जाए। ज्ञात होगी यह आवेदन वित्तीय 2021-22 के लिए ही होगा।

शिक्षा विभाग ने अगस्त, 2020 को सभी नियोजन शिक्षकों और पुस्तकालयाध्यक्षों का वेतन अप्रैल से 15 फीसदी बढ़ाने का निर्णय लिया था। इस तरह की कवायद प्राथमिक निदेशालय की तरफ से भी की जा रही है। जानकारों की माने तो अप्रैल से वेतन एक विशेष सॉफ्टवेयर के जरिये भेजा जा सकता है। बिचौलियों शिक्षकों को दूर करने के लिए शिक्षा विभाग यह कदम उठा रहा है। जानकारों के मुताबिक एक ही जिलों में एक ही पद के लिए अलग-अलग वेतन तय हो गया है।

लगभग 3 से 4 हजार वेतन में बढ़ोतरी होगी शिक्षा विभाग के आदेश के मुताबिक शिक्षकों के मूल वेतन में 15% इजाफा किया जाना है। सूत्रों की माने तो प्रत्येक शिक्षक की सैलरी में तीन से चार हजार रुपये तक का इजाफा हो सकता है। शिक्षा विभाग ने 29 अगस्त, 2020 को शिक्षकों की सैलरी में एक अप्रैल, 2021 से इजाफा करने का निर्णय लिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.