खुशखबरी! बिहार में पटना की तर्ज पर बनाये जायेंगे बेगूसराय समेत इन जिलों में अंरराज्यीय बस टर्मिनल

Bihar Bus Terminal

डेस्क : बिहार को आधुनिक बनाने के लिए बिहार की मौजूदा सरकार में जितने भी मंत्री हैं वह जीतोड़ प्रयास कर रहे हैं कि बिहार की व्यवस्था को मजबूत किया जाए। ऐसे में बिहार की व्यवस्था को मजबूत करने के लिए बिहार का ट्रांसपोर्ट सिस्टम नए सिरे से तैयार किया जा रहा है। इसके अंतर्गत रेल व्यवस्था एवं बस व्यवस्था को सजग बनाया जा रहा है।

बता दें कि बिहार में अब अत्याधुनिक तरीके से बस टर्मिनल निर्माण किया जाएगा और इसकी घोषणा उप-मुख्यमंत्री द्वारा की गई है। अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस यह बस टर्मिनल जल्द ही बिहार वासियों को मिलने वाले हैं। इसमें बेगूसराय, आरा, बक्सर, भागलपुर, छपरा, हाजीपुर शामिल है। इस टर्मिनल को तैयार करने के लिए राज्य की तरफ से पैसा दिया जा रहा है और केंद्र की ओर से भी पैसा लगाया जा रहा है। इस बार भारत के बजट में भारत को एक नई दिशा देने का संकल्प भारत सरकार ने लिया है। बिहार के बजट में ट्रांसपोर्ट एक सबसे बड़ा हिस्सा है।

आपको बता दें कि ट्रांसपोर्ट के जरिए कई व्यापार सजग रूप से चलते हैं और व्यापार के चलने की वजह से राज्यों की आमदनी बढ़ती है और जब आमदनी बढ़ती है तो लोगों के पास ज्यादा पैसा आता है। दो कॉरिडोर में मेट्रो पटना की शुरुआत होने वाली है जिसका जिक्र सदन में हुआ और आने वाले 3 साल के बाद मेट्रो सभी बिहार वासियों को पटना में दौड़ती नजर आएगी।

इस बार नदी के घाटों को भी नए सिरे से बनाया जाएगा। नदी घाट के पास अनेकों लोग रहते हैं जिनके रहने का कोई आवास और ठिकाना नहीं है। ऐसे में सरकार ने यह प्रयास किया है कि इन नदी घाटों को वापिस सही तरीके से बना कर भूमिहीन गरीब लोगों को दिया जाए। साथ ही यह भूमिहीन गरीब लोग इस घाट की रक्षा भी करेंगे और छठ पूजा के वक्त इनको व्यवस्थित करने में मदद करेंगे। सरकार का विरोध करने वाली आवाजें भी उठी। यह आवाजें एआईएमआईएम की पार्टियों से उठी। सिर्फ एक पार्टी ही नहीं बल्कि विपक्षी पार्टी ने भी जमकर मौजूदा सरकार के सभी कार्यों में खामियां गिनाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *