कर्मचारियों की आई मौज! सरकार बढ़ाने जा रही है रिटायरमेंट की उम्र- जानिए कितने साल तक होगा फायदा

7
retirement age increase

डेस्क : अगर आप भी बिहार के कर्मचारी हैं तो आप खुश हो जाइए। क्योंकि राज्य सरकार के द्वारा सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा 60 से बढ़ाकर 62 वर्ष करने पर विचार किया जा सकता है। गुरुवार को कार्यवाहक सभापति अवधेश नारायण सिंह ने नियमन दिया कि सरकार को समरूपता लाते हुए इस पर गंभीरतापूर्वक विचार करना चाहिए।

इसके बाद डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि सरकार वेतन मद और पेंशन मद में खर्च होने वाली राशि का तुलनात्मक अध्ययन कर इस बिंदु पर गौर करेगी। बता दें की केदानारथ पांडेय ने प्रश्न किया था कि राज्यकर्मियों की 60 वर्षों की सेवा करने के बाद सेवांत लाभ के रूप में प्रतिवर्ष करोड़ों रुपये का व्यय भार पे करना पड़ता है। देश के अन्य राज्यों तेलंगाना, केरल, आंध्र प्रदेश एवं मध्य प्रदेश आदि में कर्मियों की सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा 62 वर्ष है।

क्या बिहार सरकार भी इस तरह का विचार रखती है? केदारनाथ पांडेय ने कहा कि स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ने के कारण राज्यकर्मियों की उम्र और कार्यक्षमता दोनों बढ़ी है। सीएम नीतीश कुमार भी यह बात कह चुके हैं। ऐसे में सेवानिवृत्ति की उम्र बढ़ने से सेवांत लाभ मद की बड़ी राशि अन्य विकास कार्यों पर खर्च की जा सकेगी। हर साल 150-200 करोड़ की राशि सेवांत लाभ में बढ़ रही है। वर्ष 2018-19 में सेवांत लाभ मद 1,602 करोड़ था, जो वर्ष 2019-20 में बढ़कर 1,711 और वर्ष 2020-21 में बढ़कर 1,963 करोड़ हो गया है। यह जानकारी