अगर खुले मंदिर तो आ कर रहेगी कोरोना की तीसरी लहर – जानिए IMA के दावे

डेस्क : इंडियन मेडिकल एसोसिएशन का दावा है कि जल्द भारत में तीसरी लहर आ जाएगी। भारत में सभी जगह भीड़ लगनी शुरू हो गई है, ऑफिसों में कर्मचारी जाने लगे हैं। बच्चों के स्कूल कॉलेज भी खुल गए हैं ऐसे में दुकानें भी अपने निर्धारित समय से चल रही हैं। जैसे-जैसे समय आगे बढ़ रहा है लोग कोविड-19 प्रोटोकॉल का उल्लंघन करते नजर आ रहे हैं।

बड़े शहरों में कई दुकानों को कुछ दिनों के अंतराल पर चलाया जा रहा है। ऐसे में अब वह समय भी आ गया है जब धार्मिक स्थल और तीर्थ यात्रा के स्थलों को खोला जाए। आईएमए ने राज्य सरकार और केंद्र सरकार को चिट्ठी भेजकर सलाह दी है कि वह आने वाले 3 महीने तक किसी भी प्रकार से पर्यटक और धार्मिक स्थानों को ना चलाएं और 3 महीने तक सभी लोग इंतज़ार करें क्यूंकि मुश्किल की घड़ी टली नहीं है। आई एम ए के महासचिव डॉ जयेश लेले ने कहा है कि विश्व के साक्षात सबूतों के मुताबिक तीसरी लहर आनी तय है।

IMA ने चिट्ठी में साफ लिखा है कि जब तीसरी लहर की उम्मीद पूरी तरह से बनी हुई है और यह निश्चित है कि आने वाले समय में कोरोना का नया रूप देखने को मिलेगा तो क्यों लोग बेफिक्र है और किस लिए वह जगह-जगह भीड़ लगा रहे हैं। ऐसे में लोगों की भलाई के लिए आने वाले 3 महीने तक किसी भी प्रकार से पर्यटन धार्मिक स्थलों को ना खोला जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.