Amoebic Disease in Kerala: केरला में मस्तिष्क संक्रमण से हुई 15 वर्षीय किशोर की मौत, जानिए क्या है पूरा मामला

Amoebic Disease in Kerala: केरल के अलाप्पुझा जिले में दूषित पानी में पाए जाने वाले अमीबा के कारण हो रहे दुर्लभ मस्तिष्क संक्रमण का खतरा लोगों के बीच बढ़ता ही जा रहा है। दूषित पानी में पाए जाने वाले एमीबा से अमीबिक मेनिंगोएन्सेफलाइटिस नामक बीमारी का खतरा बढ़ रहा है। इसी बिमारी की चपेट में आकर कुछ दिन पहले पनावल्ली का रहने वाला 15 वर्षीय किशोर प्राथमिक की मौत हो गई। इस ख़बर की पुष्टि करते हुए केरल की स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा कि इससे पहले राज्य में इस दुर्लभ संक्रमण के पांच मामले सामने आ चुके हैं।

केरल के तिरुवनंतपुरम में मिडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि यह बीमारी पहली बार साल 2016 में सामने आया था। इसके बाद साल 2019, 20 और 22 में इसके कई मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि इस बिमारी का मुख्य लक्षण बुखार, सिरदर्द, उल्टी और दौरे आना हैं।

इस मामले पर बताते हुए मंत्री जी ने आगे कहा कि इससे पहले भी इस बिमारी से संक्रमित होने वाले व्यक्तियों की मौत हो गई थी। इस गंभीर बिमारी के बारे में बताते हुए डॉक्टरों ने कहा कि यह बिमारी किसी व्यक्ति को तब संक्रमित करता है जब मुक्त-जीवित, गैर-परजीवी अमीबा बैक्टीरिया नाक के माध्यम से शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। इस बिमारी के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए जिला स्वास्थ्य अधिकारियों ने लोगों को दूषित पानी में स्नान करने से बचने की सलाह दी है। साथ ही संक्रमित व्यक्ति को अपने बिगड़ते तबियत का निरीक्षण करने को कहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *