जानें आखिर क्यों बद्री गाय का घी है इतना ख़ास, लोग इसके घी के लिए चुका रहे हैं बड़ी कीमत

डेस्क : लोग आज के समय में पशुपालन करने में काफी रुचि दिखा रहे हैं। अब गांव देहात के इलाके ही नहीं बल्कि शहरों के लोग भी पशुपालन में दिलचस्पी दिखा रहे हैं और अपने गांव में पड़ी पैतृक जमीनों पर पशुपालन का कार्य शुरू कर रहे हैं। सरकार की ओर से पशुपालन के लिए बड़ा दान दिया जा रहा है। बता दें कि कोरोना महामारी के चलते लोगों को कई परेशानियां झेलनी पड़ी थी, जिसके चलते अब सरकार ने फैसला किया है कि वह सिर्फ जमीन से फसलें उगाने पर ही ध्यान नहीं देगी, बल्कि अन्य विकल्प जिससे आर्थिक सहायता हो सके और लोगों को समय-समय पर खाना पीना मिल सके, उसका ध्यान भी ररखेंगी। आर्थिक संकट से बचने के लिए पशुपालन एक अच्छा विकल्प है।

खाने में अगर आपको कभी कमी महसूस होती है तो आप जरूर घी का इस्तेमाल कर लेते होंगे, यह घी पशुपालन की ही देन है। बता दें की पशुपालन की मदद से एक गाय इतनी ज्यादा तंदरुस्त हो गई है की लोग उसका घी 500 – 700 रूपए में नहीं बल्कि 5500 रूपए में खरीद रहे है। गाय का नाम बद्री है और वह उत्तराखंड के चम्पावत नरियाल गाँव में रहती है। बद्री गाय दिन में सिर्फ 3-4 लीटर ही दूध देती है। बद्री गाय का यह घी गाज़ियाबाद की कम्पनी 5500 रूपए में खरीदती है। वैसे तो स्थानीय लोगों को पता ही नहीं चलता की यह गाय का घी इतना महँगा क्यों है ? लेकिन जब उनका यह पता लग जाता है तो वह सोच में पड़ जाते हैं की आखिर क्यों घी इतना महँगा है ?

बता दें की बद्री गाय एक तरह की गाय की नस्ल है और यह नस्ल अब ख़त्म होने की कगार पर है। यह नस्ल पहाड़ी इलाके में पाई जाती है। इस नस्ल को बचाने के लिये खूब प्रयास किये जा रहे हैं। जी तोड़ प्रयास के बाद 140 गाय बची हैं। इस गाय के प्रोटीन में A-2 नाम का तत्व होता है, जिससे कई बीमारियां ठीक हो जाती हैं। इस गाय के दूध और घी के अनेकों फायदें हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.