जानिये कन्हैया कुमार क्यों मिले बिहार सरकार के मंत्री अशोक चौधरी से , प्रदेश की राजनीति अजब गजब दौर में

Kanhiya Ashok Chowdhary

न्यूज डेस्क / घनश्याम देव : बिहार की राजनीति भी अजब गजब दौर से गुजर रही है। किसी भी दल के कोई भी नेता औपचारिक मुलाकात के लिए भी बिहार सरकार के मंत्री अशोक चौधरी से जैसे ही मिलते हैं बिहारी राजनीतिक पंडित मिलन को दल बदल से जोड़ने लगते हैं। खामियाजा यह होता है कि लगातार ब्रेकिंग न्यूज चलने लगते हैं। कि क्या फलाना नेता जदयू जॉइन कर लेंगे .. बात यहीं नहीं रुकती बात राज्य में गठबंधन बनने टूटने तक पहुंचने लगती है। बहरहाल ऐसा ही कुछ नजारा बिहार में बनता दिख रहा है ।

अशोक चौधरी से मिलकर दो विधायक ने पकड़ा जदयू का खेमा हालांकि राजनीतिक पण्डित भी अपने जगह सही है, क्योंकि साल 2020 के विस चुनाव में जदयू तीन नम्बर की पार्टी बन गयी है और तब से लगातार अन्य जगहों से विधायक की जुगत के लिए बिहार सरकार के मंत्री अशोक चौधरी फ्रंटफुट पर आकर बैटिंग भी कर रहे हैं। लिहाजा कुछ हद तक सफलता भी हाथ लगी है, बसपा के विधायक जमा खान और निर्दलीय विधायक सुमित सिंह को मंत्री पद देकर जदयू का बना लिया गया।

हाल ही में इस बीच लोजपा के एकमात्र विधायक राजकुमार सिंह भी निजी तौर से श्री चौधरी से मिले थे। तब भी सियासी अटकल तेज हुआ था, परन्तु लोजपा विधायक ने कयासों को अपने बयान से खंडित कर दिया था। समय अंतराल में ओवैशी के पार्टी के भी पांच विधायक अशोक चौधरी से मिले थे, और सोमवार को सीपीआई नेता कन्हैया कुमार ने अशोक चौधरी से मुलाकात की। जिसके बाद एक बाद फिर राजनीतिक बाजार गर्म हो गया है।

सीपीआई विधायक के घोषणापत्र को पूरा करवाने के लिए हुई मुलाकात कन्हैया कुमार का गृह जिला बेगूसराय जहां के बखरी विस से सीपीआई के विधायक सूर्यकांत पासवान ने जीत दर्ज की है। बखरी में सालों पहले डिग्री कॉलेज के निर्माण के लिए सारी कागजी प्रक्रिया पूर्ण हो चुकी परंतु जमीन व भवन नहीं हो सका है। विगत चुनाव में सीपीआई के कंडीडेट सूर्यकांत पासवान ने क्षेत्र के युवाओं से डिग्री कॉलेज बनाने का वादा प्रमुखता से किया था । जिसके बाद वे चुनाव जीतने के तुरंत बाद सीएम से मुलाकात भी किये थे, और रविवार को भी बखरी विधायक अशोक चौधरी और नीतीश कुमार से मुलाकात किये थे ताकि डिग्री कॉलेज की स्थापना का मार्ग प्रशस्त हो सके ।वहीं सोमवार को भी कन्हैया अपने पार्टी विधायक के घोषणा को पूर्ण करवाने के लिए अशोक चौधरी से मिले ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *