कार्यकर्ताओं को पार्टी के पदाधिकारियों द्वारा सम्मान मिलने पर ही नेताओं को मिल सकता है समर्थन : ललन कुमार

Lalan Kumar Congress

न्यूज डेस्क : किसी भी पार्टी को गतिशील पार्टी बनाने के लिए यह अति आवश्यक है कि पार्टी के पदधारी नेता व्यक्ति वादी और राजनितिक नजरिए से ऊपर उठकर पार्टी को महत्व देते हुए आम कार्यकर्ताओ के साथ अपनत्व और परिवारिक संबंध कायम करे। तभी पार्टी के आम कार्यकर्त्ता साथियो का समर्थन पदधारियों को मिल सकता है। उक्त बाते बुधवार को भागलपुर में कॉग्रेस पार्टी की लोकसभ्यता के प्रश्न पर पार्टी के वरिष्ठ नेता ललन कुमार ने कही। उन्होंने संगठन की मजबूती पर विशेष बल देते हुए कहा की पार्टी द्वारा निष्ठवान कार्यकर्ताओ की उपेक्षा और अवसरवदियो को संगठन में महत्व दिय जाने के कारण ही निष्ठावान कार्यकर्ताओ में निराशा की भावना पनपती है और वे पार्टी का काम करना छोड़ देते है।

पार्टी सहित अन्य मुद्दों पर खुलकर बोले ललन कुमार बिहार युवा कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ललन कुमार ने कहा कि पार्टी की गुटवाजी पार्टी को कमजोर कर रही है। जब निष्ठावान लोगों को पद मिलता है ,तो दूसरे कार्यकर्ताओ में आशा बनती है कि इसके बाद हमारे जैसे निष्ठावान साथियो को भी मौका मिल सकता है। ऐसे नियुक्तियों से कार्यकर्ताओ में निराशा और हताश की भावना नहीं पनपती है। उन्होंने कहा कि किसी भी संगठन कि मजबूती के लिए व पार्टी विशेष कि बेहतर भविष्य की संभावना और पार्टी संगठन में काम करने वाले साथियो का सम्मान करना जरुरी है।

इन दोनों में से एक का भी अभाव होता है ,तो कोई भी संगठन लगातार कमजोर होते चली जाती है। उन्होंने कहा कि पार्टी को सक्रिय करने के लिए संगठन का सशक्तिकरण आवश्यकता है। प्रखंड जिला और प्रदेश का अध्यक्ष या पार्टी संगठन का कोई भी पदधारी पार्टी का प्रतीक और दूत है ,जिसके माध्यम से नेतृत्व ,नीति और कार्यक्रम आम कार्यकर्ताओ के माध्यम से जनता तक पहुँचती है। इन्ही कार्यकर्मों के माध्यम से जनता का जुड़ाव पार्टी विशेष के साथ बनता है। उन्होंने कहा कि पार्टी के छोटे या बड़े पद पर कार्य करने वाले नेता का दो ही काम होता है। जनता को अपनी ओर आकृष्ट करना ओर आकृष्ट हुई जनता को प्रभावित कर उनको पार्टी का साथी बनाना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

UPSC टॉपर शुभम की कहानी, 6 साल की उम्र में घर छोड़ा, 12वीं में देखा था IAS बनने का सपना मिलिए जागृति से,जानिए कैसे बनीं वो UPSC के महिला वर्ग में देशभर की टॉपर Divya Aggarwal ने जीता BigBossOTT-जानें ट्रॉफी के साथ कितना मिला कैश ? Jio अब बजट रेंज में लॉन्च करेगा लैपटॉप, ये होंगे कीमत और Features Airtel vs Vi vs Jio : जानें 600 रुपये से कम वाला किसका रिचार्ज प्‍लान सबसे बेस्‍ट