शराब तस्करों ने निकाला दूसरे राज्यों से शराब मंगाने का बेजोड़ उपाय, अब सीधे ट्रेन के पार्सल बोगी में बुक करके मंगा रहे हैं शराब..

Sharab

डेस्क : बिहार में शराब तस्करों और पुलिस के बीच हमेशा से छत्तीस का आंकड़ा रहता है। बिहार पुलिस जितना ही शराब की तस्करी रोकने के लिए कारवाई करती है , तस्कर भी उतना ही नया नया तरीका खोज निकाल रहे हैं। अब राज्य में शराब तस्करों और पुलिसवालों के बीच “ तु डाल डाल,तो मैं पात पात” वाली कहानी हो गई है। शराब तस्करों ने शराब तस्करी के लिए नया तरीका खोज लिया है ,और अब वे ट्रेन में पार्सल बुक करके बाहरी राज्यों से बिहार में शराब मंगा रहे हैं।

क्या है पूरा मामला- दरअसल ट्रेन में पार्शल करके शराब तस्करी करने के मामले का खुलासा उस वक़्त हुआ, जब आनंद विहार स्टेशन से बापूधाम मोतिहारी स्टेशन आने वाली सप्तक्रांति एक्सप्रेस के एसएलआर बोगी की तलाशी ली गई। बापूधाम मोतिहारी स्टेशन पर जब सप्तक्रांति एक्सप्रेस के रियर एसएलआर बोगी से पार्सल कर्मियों द्वारा सामानों की अनलोडिंग की जा रही थी, उसी वक्त इस तस्करी का पता चला। आरपीएफ जवान राजेश सिंह यादव के द्वारा जब सामानों की तलाशी ली गई तो उन्हें शराब का गंध महसूस हुआ, जिसकी सूचना उन्होंने अपने वरीय पदाधिकारियों को दी। इसके बाद जब पूरे पार्सल बोगी की तलाशी ली गई तो भारी मात्रा में शराब बरामद हुआ । इस मामले में अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

डेढ़ लाख मूल्य का शराब बरामद- बरामद शराब का मूल्य तकरीबन डेढ़ लाख रुपये बताया जा रहा है। रेल पुलिसकर्मियों को तलाशी के दौरान रॉयल स्टेग 750 एमएल की 48 तथा ब्लेंडर प्राइड 750 एमएल की 46 बोतलें मिली हैं। बापूधाम मोतिहारी स्टेशन के पोस्ट कमांडर अर्जुन कुमार यादव ने बताया कि बरामद शराब का पार्सल आनंद विहार स्टेशन से बापूधाम मोतिहारी स्टेशन तक वीरेन्द्र दुबे नाम के युवक से बुक किया गया था। मामले को अग्रिम कार्यवाही के लिए राजकीय रेल थाना बापूधाम मोतिहारी को सौंप दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *