दुनिया के सबसे ऊंची लोकेशन पर पहुंची Mahindra की ये इलेक्ट्रिक गाड़ी, आनंद महिन्द्रा ने ऐसे की तारीफ

Mahindra’s Electric vehicle reached to world’s highest location: Mahindra देश के टॉप ऑटोमोबाइल कंपनी में से एक है। कम्पनी अपनी गाड़ियों k बोल्ड और ब्यूटीफुल लुक के साथ दमदार इंजन और पावर के लिए मार्केट में तगड़ा कंपटीशन देती हैं। हालांकि अपनी गाड़ियों को लेकर आनंद महिंद्रा भी सोशल मीडिया पर कई वीडियो शेयर करते राजे हैं। इसी क्रम में आनंद महिंद्रा ने एक ओर वीडियो शेयर किया है। उन्होंने ट्विटर पर महिंद्रा ट्रेओ (Mahindra Treo) इलेक्ट्रिक ऑटो से जुड़ा वीडियो शेयर किया है। इसमें ये ख़ास है कि वीडियो 17982 फीट ऊंचाई का है। जोथी विकनेश नाम का शख्स इस इलेक्ट्रिक ऑटो को लेह जिले के खारदुंग ला दर्रे पर लेकर चला गया। जिसके बाद इतनी ऊंचाई पर जाने वाल ये देश का पहला इलेक्ट्रिक ऑटो भी बन गया।

इस वीडियो को आनंद महिंद्रा ने खुद से शेयर किया है।ये वीडियो 16 सेकंड्स का है जिसमें देखा जा सकता है कि खारदुंग ला दर्रे के साथ महिंद्रा ट्रेओ का फोटो दिख रहा है। आनंद ने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा, “Thank you Jothi, for taking the Treo to the Top of the World…”

कीमत 2.09 लाख रुपए
16 दिसंबर, 2021 को महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी ने महाराष्ट्र में अपने इलेक्ट्रिक थ्री-व्हीलर महिंद्रा ट्रेओ को मार्केट में उतारा था। वहां, मुंबई में इसकी एक्स-शोरूम कीमत 2.09 लाख रुपए है। मालूम हो इसकी इतनी कीमत कीमत FAME-II और राज्य द्वारा मिलने वाली सब्सिडी के बाद रखी गई है। इस थ्री व्हीलर में आपको टॉप स्पीड 50km/h मिलेगी। सिंगल चार्ज पर ये मॉडल आपलो 80km दे सकता है। इसमें 48V लिथियम-आयन बैटरी है जो 7.37 kWh की कैपेसिटी दे सकता है। बता दें ये 3 घंटों में चार्ज हो जायेगा। वहीं, स्टैंडर्ड कंडीशन में बैटरी को चार्ज करने में 50 मिनट का समय लगता है।

केवल 50 पैसे प्रति किमी होंगे खर्च
इस मॉडल का फ्रंट सस्पेंशन हेलिकल स्प्रिंग, डैम्पर और हाइड्रैलिक शॉक एब्जॉर्बर से लैस है। वही इसके रियर सस्पेंशन में लीफ स्प्रिंग के साथ रिजिड एक्सल है। इसे इलेक्ट्रिक ऑटो आगे और पीछे हाइड्रोलिक ब्रेक के साथ बनाया गया है। वहीं अगर पार्किंग की बात करें तो पार्किंग के लिए मैकेनिकल लीवर ब्रेक का ऑप्शन आपको मिलेगा। कम्पनी का दावा है कि इलेक्ट्रिक ऑटो केवल 50 पैसे प्रति किमी की कीमत पर चलने में सक्षम है। तो फ्यूल की लागत की तुलना में ये हर साल 45,000 रुपए तक की बचत कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *