ये बिहारी पैसेंजर है भईया..इसमें आदमी और सांड साथ में सवारी करते हैं..

डेस्क : बिहार जैसे अनोखे राज्य में रेल की सवारी में आपको हर बार कुछ अनोखा ही देखने को मिल जाएगा. कई लोग पैसेंजर बोगी में अपनी साइकिल बाइक लेकर चढ़ जाते हैं तो कई लोग घास और जानवरों का चारा लेकर लोग चढ़ जाते हैं. मगर बिहार के भागलपुर के पीरपैंती से एक अनोखा मामला सामने आया है. यहां ईएमयू पैसेंजर ट्रेन में आमलोगों के साथ एक सांड ने भी सवारी ट्रेन की सवारी की. सांड को देखते ही सभी यात्री दहशत में आ गए. वहीं बोगी में हर तरफ अफरा-तफरी मच गई. अब सांड की फोटो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है.

यह बताया जा रहा है कि मंगलवार को जमालपुर से साहिबगंज आ रही ईएमयू पैसेंजर ट्रेन जैसे ही मिर्जाचौकी स्टेशन पर पहुंची. यहां स्टेशन पर खुला घूम रहे एक सांड को कुछ शरारती तत्व के लोगों ने ट्रेन में चढ़ा दिया. इसके बाद रस्सी की मदद से सीट में बांध भी दिया. ऐसा करने में करीब आधा दर्जन लोग शामिल थे. ऐसे में बोगी में बैठे लोग उनका पूरी तरह से विरोध भी नहीं कर पाए. थोड़ी देर बाद जब ट्रेन खुली तो रफ्तार की वजह से बार-बार सांड ने बिदकना शुरू कर दिया, इससे बोगी में बैठे सभी यात्रीगण दहशत में आ गए. फिर देखते ही देखते बोगी में हड़कंप मचनी शुरू हो गयी.

कुछ दूर चलने के बाद में स्टेशन पर खड़े एक भूतपूर्व सैनिक भूलन दूबे किसी तरह से बोगी में चढ़े. इसके बाद उन्होंने सांड की रस्सी को खोला. फिर जाकर सावधानी से सांड को ट्रेन से नीचे उतारा. भूलन दुबे ने उन बादमाशों को पकड़ने की भी कोशिश की मगर वो वहां से भाग गए.मौजूद लोगों ने बताया कि मिर्जाचौकी रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ और स्टेशन प्रबंधक की लापरवाही के कारण अक्सर इस तरह की घटनाएं होती ही रहती रहती हैं. रेल प्रशासन को इस तरह के मामलों पर कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए. स्टेशन परिसर में अक्सर ये मवेशी घूमते ही रहते हैं. मगर इन्हें कभी भी पकड़ा नहीं जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *