बिहार में दर्जन से अधिक शहरों के लिए तैयार हुआ मास्टर प्लान – जानिए किन शहरों का बदलेगा ढांचा, क्या है पटना का हाल ?

bihar smart city

bihar smart city

डेस्क : भारत के हर राज्य में स्मार्ट सिटी तैयार की जा रही है ऐसे में स्मार्ट सिटी बनाने के लिए कई चरणों पर राज्य का निरीक्षण किया जाता है। आपको बता दें कि स्मार्ट सिटी का आयोजन और योजना बिहार में भी शुरू होने जा रही है ऐसे में जितने भी आला अधिकारी हैं वह अपनी सलाह 22 फरवरी तक दे सकते हैं फिर चाहे वह आपत्ति हो या सुझाव हो सब कुछ स्वीकार किये जाएंगे। बिहार में शहर का कुल क्षेत्रफल 417 वर्ग किलोमीटर तैयार किया गया है ऐसे में कुछ राजस्व ग्राम भी हैं जिनकी गिनती करने पर 125 निकल के आई है।

ऐसे में बिहारशरीफ, मुजफ्फरपुर, भागलपुर जैसे शहरों का नक्शा भी तैयार किया जा रहा है जिसमें क्षेत्रफल और गांव का ब्यौरा मांगा जा रहा है आपको बता दें कि पूरे प्लान में बिहार से कई शहर आते हैं और वह हर दिशा को छूते हैं स्मार्ट सिटी प्लान के तहत पूरे शहर को ब्लॉक में बांटा गया है। मास्टर प्लान बड़े स्तर पर तैयार किया जा रहा है जिसमें पहले फेज में मुंगेर कटिहार, बेगूसराय, दरभंगा, आरा, पूर्णिया, बेतिहा, मधुबनी, मोतिहारी, समस्तीपुर शामिल हैं इसके अलावा एक लाख से ज्यादा जनसंख्या वाले शहर में मास्टर प्लान योजना चल रही है।

आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने परियोजनाओं की प्रगति और पूर्णता दर के आधार पर शुक्रवार को स्मार्ट शहरों की आवधिक रैंकिंग की घोषणा की है और यह घोषणा मार्च 2020 में की गई थी। वर्तमान रैंकिंग 1 अक्टूबर, 2019 से 1 मार्च, 2020 तक स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत संबंधित विभागों द्वारा किए गए कार्य पर आधारित है।

पिछली रैंकिंग के अनुसार पटना शहर ने 39 वीं रैंक हासिल की थी। इससे पहले, स्मार्ट शहरों का मूल्यांकन एक वार्षिक अभ्यास था, लेकिन मंत्रालय ने इसे पिछले साल आधे साल में पूरा कर लिया था। पटना ने 42.89 – परियोजना कार्यान्वयन (22.74 अंक), धन हस्तांतरण (14 अंक) और धन उपयोग (6.15 अंक) का समग्र स्कोर हासिल किया है। 100 अंकों में से, 60 अंक परियोजना के कार्यान्वयन पर, 14 धन हस्तांतरण पर, 14 धन के उपयोग पर और 12 उपयोगिता प्रमाण पत्र भेजने पर थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *