बिहार पंचायत चुनाव 2021 की घोषणा में होगी और देरी , EVM को लेकर फंसा मामला

न्यूज डेस्क : बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर देरी होने से सम्भावित प्रत्याशियों की धड़कने तेज होने लगी है। राजनीतिक पार्टियां भी पूरी तरह से तैयारियों में जुटी हुई हैं। मिल रही जानकारी के अनुसार पंचायत चुनाव के कार्यक्रम में एक महीने की देरी होगी। लाख कोशिशों के बावजूद राज्य निर्वाचन आयोग मार्च के अंतिम सप्ताह से पहले चुनावी तारीखों का ऐलान नहीं कर पायेगा।

ऐसा इसीलिए हो रहा है क्योंकि आयोग की तरफ से राज्य निर्वाचन आयोग को एम3 जेनरेशन की ईवीएम खरीद को लेकर एनओसी नहीं दिया जा सका है। दरअसल अभी तक EVM खरीद को लेकर पेंच फंसा हुआ है। राज्य निर्वाचन आयोग एम3 जेनेरेशन की ईवीएम खरीद के लिए भारत निर्वाचन आयोग से एनओसी ( NOC ) की मांग रहा है। इसके लिए पत्र भी लिखा जा चुका है। तय समय पर ईवीएम नही मिलने के कारण चुनाव की प्रक्रिया अबतक शुरु नहीं हो पाई है। छह पदों पर होने बाले इस चुनाव को EVM से सम्पन्न करवाना एक अलग ही चुनौती है। आयोग इस संबंध में हाईकोर्ट में मामला दाखिल कर रखा है और आयोग से सीधे संपर्क में भी है। अबतक EVM खरीद का रास्ता साफ नहीं हो सका है।

जून में खत्म हो जाएगा कार्यकाल बिहार राज्य के त्रिस्तरीय पंचायती राज संस्थाओं का कार्यकाल जून माह में खत्म हो जाएगा। इसको लेकर राज्य निर्वाचन आयोग ने अप्रैल से मई तक चुनाव संपन्न करवा लेने की तैयारी थी। इस कड़ी में फरवरी माह के अंत तक तारीखों का ऐलान होना था । लेकिन अब तक ईवीएम की खरीद नहीं होने से न तो तारीखों की घोषणा हो पाई है और न ही अधिसूचना जारी हो पाई है। आयोग की मानें तो एनओसी (NOC) न मिलने की वजह से पंचायत चुनाव में एक महीने की देरी संभव है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.