Bihar में 400 से अधिक ट्रेन रद्द, कई का रूट बदला.. जानिए – कब से शुरू होगा परिचालन..

केंद्र सरकार ने सेना की तीनों विभागों में एक नई स्कीम ‘अग्निपथ’ योजना के तहत भर्ती करने की प्रक्रिया का फैसला लिया हैं। पूरे देश भर के छात्रों में इस ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ काफी ज्यादा रोष में हैं। और लगातार सरकार का विरोध कर रहे हैं। लेकिन छात्रों के विरोध का सारा खमियाजा भारतीय रेल और उनके यात्रियों को उठाना पड़ा हैं। इन छात्रों ने इस योजना के विरोध के लिए रेलवे की संपत्ति को निशाना बनाना शुरू कर दिया हैं जिसके बिहार,झारखण्ड,बंगाल,असम,उत्तर प्रदेश सहित तमाम राज्य के बेकसूर लोग इसकी जद में आ गए हैं।

अकेले बिहार में रेलवे की करीब 250 करोड़ की संपत्ति को नुकसान पहुँचाया गया हैं। इन छात्र रूपी गुंडों ने कई ट्रेनें जला कर राख कर दी जिससे आम यात्रियों को असुविधाजनक परिस्थितियों का सामना करना पड़ा हैं। जिससे चलते बिहार के रास्ते चलने वाले सारी ट्रेनों का परिचनाल बन्द करने का फैसला रेलवे ने उठाया हैं। यहाँ तक कि पूरे ईसीआर रीजन में 400 से अधिक ट्रेनों का परिचालन रद्द किया गया हैं। वही दूसरे राज्यो से खुलकर बिहार से गुजरने वाली ट्रेनों को भी निशाना बनाया गया हैं। उन ट्रेनों में भी तोड़ फोड़ और आगजनी की गई हैं।

गुरुवार से ही बाधित रही थी ट्रेनें: उपद्रवियों ने गुरुवार से ही ट्रेनों को निशाना बनाना शुरू किया और ये क्रम शुक्रवार से लेकर शनिवार तक धड़ल्ले से चलता गया। हालात ये हैं कि आज सोमवार को कल रविवार की तुलना में कम ट्रेनें चलेंगी। ट्रेनों का परिचालन बन्द होने की वजह से पटना से दिल्ली तक का किराया 25000 रुपये हो गया हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.