भाईचारे की अनूठी मिसाल – जब सभी इंजीनियर फेल हो गए, तब एक मुस्लिम युवक ने मंदिर में लटकाया 3700KG का घंटा..

4
MP Mandsaur mandir ka ghanta

डेस्क : आज हम आपको भाईचारे की अनूठी मिसाल बताने जा रहे है, जहा बड़े बड़े इंजीनियर फेल हुए तो एक मुसलमान ने 3700 किलो घंटे को पशुपतिनाथ मंदिर में किया स्थापित , हैरान कर देने वाली जानकारी मुस्लिम मिस्त्री नाहरू खान ने पशुपतिनाथ मंदिर में 3,700 किलो की घंटी टांगने के लिए एक पैसा भी नहीं लिया और भाईचारे की मिसाल कायम की।

madhyapradesh pashupatinath mandsaur

मध्य प्रदेश के मंदसौर में साम्प्रदायिकता की मिसाल देखने को मिली है। दरअसल, एक मुस्लिम मिस्त्री नाहरू खान ने पशुपतिनाथ मंदिर के प्रांगण में 3,700 किलोग्राम का महाघंटा स्थापित किया है। इस महाघंटा को काफी देर तक मंदिर परिसर में ही रखा गया, लेकिन दुर्घटना की आशंका के चलते इसे लटकाया तक नहीं गया। कई इंजीनियर आए लेकिन चले गए क्यौकी उनमें महाघंटा को लगाने का साहस नहीं था उन्हे दुर्घटना का डर था।

madhya pradesh mandsaur

महाघण्टा लगाने पर एक रुपया भी नहीं लिया : आपको बता दें कि यह 3,700 किलो महा घंटा काफी समय पहले ही मंदिर परिसर में स्थापित करने के लिए लाया गया था लेकिन इसे स्थापित नहीं किया जा सका। अब नाहरू खान ने इस महाघंटा को पशुपतिनाथ मंदिर में बिना कोई पैसा लिए स्थापित कर दिया है। रविवार शाम को महाघंटे का ट्रायल भी किया गया जिसमें वह सफ़ल भी हुऐ सभी बहुत खुश हुए। साथ ही नाहुर खान को उसकी सफ़ल कोशिश के लिए बधाई भी दी।

Madhya Pradesh: Maha Ghanta dedicated to Lord Pashupatinath in Mandsaur on  Basant Panchami